1. गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी का दावा, कश्मीर में सिखों को भारत विरोधी नारे लगाने के लिए मजबूर किया जा रहा है : शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर में सिखों को भारत विरोधी प्रदर्शनों में शामिल होने और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के लिए मजबूर किया जा रहा है. कमेटी ने केंद्र और राज्य सरकार को एक पत्र लिखकर कश्मीर घाटी में अल्पसंख्यक सिख समुदाय की मदद करने की अपील की है.

2. मोदी सरकार ने गौरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए : केंद्र ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को गौरक्षा के नाम पर उत्पीड़न करने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. इस बारे में गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को 'एडवाइजरी' जारी की है. इसमें गौरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वाले लोगों पर तेजी से कार्रवाई करने और उन्हें सख्त सजा दिलाने की बात कही गई है.

3. मणिपुर में बीएसएफ कैंप के नजदीक बम धमाका, एक घायल : मणिपुर में इंफाल के मुरांग पुरेल गांव में बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स के कैंप के पास बम विस्फोट हुआ है. अधिकारियों ने इसके पीछे स्थानीय आतंकी संगठनों का हाथ होने की आशंका जताई है. हालांकि, अभी तक किसी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है.

4. विपक्ष का प्रधानमंत्री पर निशाना, कहा, दुनिया भर की बातों पर ट्वीट करते हैं लेकिन कश्मीर पर नहीं : राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को कश्मीर संकट पर उसी तरह बात करनी चाहिए जैसे वे दुनिया भर की घटनाओं पर ट्वीट करते हैं. आजाद ने कहा कि प्रधानमंत्री रोजाना अपने कार्यालय में मौजूद रहते हैं, बावजूद इसके वे संसदीय कार्यवाही में शामिल नहीं होते हैं.

5. शेयर बाजार में उतार, सोना 31 हजार के पार : वैश्विक बाजारों में आई तेजी और आने वाले त्यौहारों को देखते हुए बढ़ी मांग के कारण बुधवार को सोने और चांदी की कीमत में काफी तेजी देखी गई. साथ ही शेयर बाजार में मुनाफावसूली हावी रही.

6. गिरफ्तार आतंकी ने पाकिस्तान की कलई खोली : कश्मीर में गिरफ्तार लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी बहादुर अली ने पाकिस्तान की कई साजिशों का पर्दाफाश किया है. 25 जुलाई को पुलिस की गिरफ्त में आए बहादुर अली ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को बताया है कि उसे पाकिस्तान में प्रशिक्षण देकर कश्मीर घाटी में अशांति फैलाने का काम सौंपा गया था.

7. राजनाथ सिंह ने कहा, दुनिया की कोई ताकत हमसे कश्मीर नहीं छीन सकती : कश्‍मीर की स्थिति पर बुधवार को राज्यसभा में चर्चा के दौरान गृह मंत्री ने कहा, 'कश्मीर में आज जो भी हो रहा है वह पाकिस्तान प्रायोजित है. लेकिन, कश्मीर को दुनिया की कोई ताकत भारत से अलग नहीं कर सकती और अब जब भी पाकिस्तान से बात होगी तो वह कश्मीर पर नहीं बल्कि पाक अधि‍कृत कश्मीर पर होगी.'