कार्पोरेट मामलों के मंत्रालय में पूर्व डायरेक्टर जनरल बालकृष्ण बंसल ने अपने बेटे के साथ खुदकुशी कर ली है. एएनआई के मुताबिक दिल्ली की मधु विहार कॉलोनी में उन्होंने अपने आवास पर खुदकुशी की है. मंगलवार को घरेलू नौकर के जरिये पुलिस को घटना की जानकारी मिली. पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और जांच के लिए फॉरेंसिक विशेषज्ञों को बुलाया है.

बंसल को सीबीआई ने 16 जुलाई को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया था. 22 जुलाई को उनकी अदालत में पेशी के कुछ घंटे बाद उनकी पत्नी सत्यबाला और बेटी नेहा ने आत्महत्या कर ली थी. दोनों के शव अलग-अलग कमरे में लटके पाए गए थे. इसके अलावा उनके बेटे के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पा रही थी. हालांकि, वह बाद में लौट आया था.

सीबीआई ने बंसल को नौ लाख रुपए रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया था. एनडीटीवी के मुताबिक उन्होंने एक दवा कंपनी की जांच को प्रभावित करने के लिए रिश्वत ली थी. वे मुंबई स्थित एक दवा कंपनी के गैर-कानूनी कारोबार की जांच कर रहे थे और आरोप था कि उन्होंने जांच को प्रभावित करने के लिए 20 लाख रुपये मांगे थे. सीबीआई ने बंसल के घर की तलाशी के दौरान 60 लाख रुपये, 20 संपत्तियों के कागजात और 60 बैंक खातों की जानकारी मिलने का दावा किया था.

हालांकि, सीबीआई की विशेष अदालत ने बंसल को अगस्त में जमानत दे दी थी. उन्हें पत्नी और बेटी की आत्महत्या, बेटे के डिप्रेशन में होने और खुद उनका स्वास्थ्य ठीक न होने के आधार पर जमानत दी गई थी. अपने बेटे के डिप्रेशन के बारे में बंसल ने कहा था, ‘मेरा बेटा बुत की तरह बैठा रहता है. मुझे आशंका है कि वह भी अपनी मां और बहन जैसा कोई कदम उठा सकता है.’