1. अमेरिका में पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने संबंधी याचिका खारिज, अब भारत के खिलाफ याचिका दायर : अमेरिका में पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रायोजक देश घोषित किए जाने के लिए चलाई जा रही ऑनलाइन याचिका पर व्हाइट हाउस ने रोक लगा दी है. प्रावधानों के मुताबिक याचिका पर सुनवाई के लिए 21 अक्टूबर तक न्यूनतम एक लाख हस्ताक्षर किए जाने थे. लेकिन रिकॉर्ड छह लाख से अधिक लोगों के हस्ताक्षर होने के बावजूद व्हाइट हाउस ने याचिका पर रोक लगा दी. अमेरिकी राष्ट्रपति के कार्यालय के मुताबिक यह रोक बड़ी संख्या में हस्ताक्षरों के फर्जी होने के संदेह के चलते लगाई गई. पाकिस्तान के खिलाफ यह याचिका व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर ‘वी द पीपल’ नाम के एक मंच के जरिये दायर गई थी. इसमें कहा गया था कि पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आतंकवाद की वजह से अमेरिका और भारत सहित कई देशों के नागरिक प्रभावित होते हैं.

2. विश्व बैंक ने कहा, ऑटोमेशन के कारण भारत में 69 प्रतिशत नौकरियां खतरे में हैं : स्वचालन यानी ऑटोमेशन से भारत में रोजगार के लिए जल्द बड़ा खतरा पैदा होने वाला है. ऐसा विश्व बैंक के एक शोध में कहा गया है. इस शोध के अनुसार मशीनों के तेजी से बढ़ते उपयोग से भारत में 69 प्रतिशत नौकरियों को खतरा है. इसमें कहा गया है कि भारत जैसे विकासशील देश आगे बढ़ने को लेकर काफी ज्यादा उत्साहित हैं. इन देशों में आधुनिक तकनीक और स्वचालन पद्धति का इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है. संस्था का कहना है कि इससे परंपरागत और बुनियादी तरीके खत्म हो रहे हैं जिसका सीधा असर रोजगार पर पड़ने वाला है. मंगलवार को विश्वबैंक के अध्यक्ष जिम योंग किम ने खुद एक कार्यक्रम में इस शोध के बारे में बताया है.

3. तनाव का असर खेलों पर, पाकिस्तान के कबड्डी विश्वकप में शामिल होने पर रोक लगी : उरी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बने तनाव का असर खेलों पर भी पड़ने लगा है. दोनों देशों के बीच तनाव की वजह से अब पाकिस्तान को कबड्डी विश्व में शामिल होने से रोक दिया गया है. अंतरराष्ट्रीय कबड्डी फेडरेशन ने बुधवार को यह जानकारी दी. फेडरेशन के प्रमुख देवराज चतुर्वेदी ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि कबड्डी विश्वकप में छह बार उपविजेता रहा चुका पाकिस्तान फेडरेशन का एक महत्वपूर्ण सदस्य है, लेकिन, मौजूदा हालात में उसके साथ खेलना सही नहीं होगा. चतुर्वेदी के मुताबिक फेडरेशन के सदस्यों ने भारत-पाक के बीच बने हालिया तनाव पर विचार करने के बाद यह तय किया कि पाकिस्तान को इस प्रतियोगिता से दूर रखना ही दोनों देशों के हित में होगा.

4. इरोम शर्मिला के खिलाफ खुदकुशी की कोशिश का मामला खारिज : इंफाल की एक अदालत ने जानी-मानी सामाजिक कार्यकर्ता इरोम शर्मिला के खिलाफ खुदकुशी की कोशिश का मामला खारिज कर दिया है. इरोम शर्मिला ने हाल ही में 16 साल लंबी अपनी भूख हड़ताल खत्म की थी. उनकी यह भूख हड़ताल मणिपुर में लागू सशस्त्र बल विशेषाधिकार अधिनियम (अफस्पा) के खिलाफ थी. इसी दौरान उन पर आत्महत्या के प्रयास का यह मामला दर्ज किया गया था. भूख हड़ताल तोड़ते हुए इरोम शर्मिला ने अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान किया था. उन्होंने यह भी कहा था कि वे अब राजनीतिक तरीके से अपनी मांग उठाएंगी. उन्होंने आने वाले चुनावों में बतौर उम्मीदवार खड़े होने की बात भी कही थी.

5. अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने भारत के खिलाफ परमाणु अप्रसार संधि से जुड़ी याचिका खारिज की : परमाणु अप्रसार संधि को लेकर भारत को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में घेरने की मार्शल आइलैंड्स की कोशिश नाकाम रही है. बुधवार को हेग स्थित संयुक्त राष्ट्र की सर्वोच्च अदालत इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) ने इस द्वीप देश की याचिका खारिज कर दी. सुनवाई के दौरान 16 जजों की बेंच ने भारत की इस दलील को मान लिया कि यह मामला उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है. मार्शल आइलैंड्स ने अपनी याचिका में भारत सहित कई परमाणु संपन्न देशों पर आरोप लगाया था कि वे 1968 की परमाणु अप्रसार संधि की शर्तों को मानने और परमाणु हथियारों की दौड़ रोकने में नाकाम साबित हुए हैं. उसकी मांग थी कि इन देशों पर मुकदमा चलाया जाए. बीते साल दायर इस याचिका पर बाकी देशों ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी.

6. अमेरिकी नागरिकों से ठगी के आरोप में तीन कॉल सेंटरों पर छापे, 750 से ज्यादा कर्मचारी हिरासत में : महाराष्ट्र पुलिस ने मुंबई से सटे ठाणे के तीन कॉल सेंटरों पर छापे मारकर 750 से ज्यादा कर्मचारियों को हिरासत में लिया है. इनसे अमेरिकी नागरिकों के साथ जालसाजी करने के मामले में पूछताछ की जा रही है. खबरों के मुताबिक कॉल सेंटर्स के ये कर्मचारी कर्ज न चुका पाने वाले अमेरिकी नागरिकों को फोन कर खुद को टैक्स अधिकारी बताते थे. इसके बाद वे उनके बैंक खातों से जुड़ी जानकारियां मांगते थे और ऐसा न करने पर कानूनी कार्रवाई की भी धमकी देते थे. ये जानकारियां मिलने के बाद उनके खातों को हैक करके पैसे निकाले जाते थे. अधिकारियों के मुताबिक इन कर्मचारियों ने रोजाना औसतन एक करोड़ रुपये से ज्यादा की चोरी की है.

7. एड्स के मरीजों की जिंदगी आसान बनाने वाले विधेयक में संशोधनों को कैबिनेट की मंजूरी : केंद्र सरकार ने एचआईवी/एड्स मरीजों के इलाज की सुविधाओं को बेहतर बनाने वाले विधेयक को आगे बढ़ाने का फैसला किया है. इसके लिए बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने एचआईवी और एड्स (नियंत्रण व रोकथाम) विधेयक-2014 में संशोधनों को मंजूरी दे दी है. इस विधेयक के तहत एचआईवी मरीजों के इलाज को कानूनी अधिकार के रूप में मान्यता दी गई है. इसके अलावा केंद्र व राज्य सरकारों को एचआईवी/एड्स मरीजों के लिए एंटीरेट्रोवायरल थेरेपी (एआरटी) की व्यवस्था करने और प्रतिरक्षा तंत्र की कमजोरी से होने वाले संक्रमण को रोकने के इंतजाम के लिए जिम्मेदार बनाया गया है. विधेयक में एचआईवी संक्रमित व्यक्ति के साथ किसी भी तरह के भेदभाव पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है.

8. दादरी हत्याकांड के एक आरोपित की मौत, परिजनों का जेल प्रशासन पर आरोप : दादरी के बिसाहड़ा गांव में मोहम्मद अखलाक की हत्या के एक आरोपित की मौत के बाद बिसाहड़ा गांव में तनाव बढ़ गया है. डॉक्टरों के मुताबिक 22 साल के रवि की मौत किडनियां फेल होने के चलते हुई है. जबकि, मृतक रवि के परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उसकी पिटाई की थी. हालात को देखते हुए बिसाहड़ा गांव में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है. जेल प्रशासन ने मंगलवार को रवि की तबियत बिगड़ने पर उसे दिल्ली के जेपी अस्पताल में भर्ती कराया था. इलाज करने वाले डॉक्टरों का कहना है कि उसकी किडनियों ने काम करना बंद कर दिया था. उन्होंने रवि को डेंगू होने की भी आशंका जताई है. इस संबंध में मेडिकल रिपोर्ट अभी आनी बाकी है.