‘समान नागरिक संहिता केवल मुसलमानों का मामला नहीं है, पूर्वोत्तर के लोग भी इसका विरोध करेंगे.’

— असदुद्दीन ओवैसी, एआईएमआईएम पार्टी के अध्यक्ष

ओवैसी का यह बयान समान नागरिक संहिता पर विधि आयोग द्वारा आम जनता व राजनीतिक दलों से राय मांगने पर आया. उन्होंने कहा कि यह ज्यादातर भारतीयों को प्रभावित करने वाला मुद्दा है क्योंकि यह भारत की विविधता से जुड़ा है, जिसे भाजपा खत्म करना चाहती है. ओवैसी ने कहा कि भाजपा के लिए मुसलमानों को दुश्मन की तरह पेश करना जरूरी है ताकि वे इस मामले में ध्रुवीकरण कर सकें. पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा था कि भारत में धार्मिक कानून लागू नहीं होने चाहिए. इसका जिक्र करते हुए ओवैसी ने पूछा कि हिंदू अविभाजित परिवार, हिंदू विवाह और हिंदू उत्तराधिकार से जुड़े कानून क्या हैं?

‘अखिलेश की शादी की कोई फोटो ऐसी नहीं है जिसमें यह 'दलाल' न हो.’

— अमर सिंह, सपा महासचिव

अमर सिंह ने यह बात सपा व मुलायम सिंह के परिवार में जारी कलह को लेकर कही. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की दलाल वाली टिप्पणी से उन्हें काफी तकलीफ पहुंची है. सपा महासचिव ने यह भी कहा कि जब पूरा यादव परिवार अखिलेश और डिंपल की शादी के खिलाफ था तब वे अकेले उनकी मदद के लिए खड़े थे. उन्होंने कहा कि वे अखिलेश यादव का नहीं, बल्कि मुलायम सिंह के बेटे का हमेशा समर्थन करते रहेंगे. अखिलेश यादव सहित सपा का एक खेमा पार्टी और परिवार के मौजूदा टकराव के लिए अमर सिंह को जिम्मेदार मानता है.


‘मुलायम सिंह यादव की हालत भीष्म पितामह जैसी हो गई है, उन्हें वनवास पर चले जाना चाहिए.’

— विनय कटियार, भाजपा नेता

कटियार ने यह बात सपा की कलह और उससे यूपी की प्रशासनिक व्यवस्था पर पड़ रहे असर को लेकर कही. उन्होंने कहा कि सपा में मुलायम सिंह की बात नहीं सुनी जा रही है. कटियार ने सपा का टकराव बने रहने की सूरत में यूपी में राष्ट्रपति शासन लगाने का समर्थन किया. इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि अगर राम गोपाल यादव भाजपा में आने के लिए संपर्क करते हैं तो पार्टी विचार करेगी, इससे पार्टी को लाभ होगा. प्रदेश में चिकनगुनिया और डेंगू को लेकर बुधवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा था कि इन हालात के मद्देनजर क्यों न यूपी में राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाए.


‘जब तक भारत-पाकिस्तान के बीच आवाजाही के रास्ते खुले हैं, अभिनेता भी आते-जाते रहेंगे.’

— पूजा भट्ट, अभिनेत्री

पूजा भट्ट का यह बयान पाकिस्तानी कलाकारों पर भारत में पाबंदी लगाने की मांग पर आया. वे पाकिस्तान की यात्रा पर हैं और आज कराची पहुंचने के बाद पूजा ने कहा कि वे पाकिस्तान आकर काफी खुश हैं. सितंबर में उरी आतंकी हमले के बाद भारत में कुछ संगठन पाकिस्तानी कलाकारों पर पाबंदी लगाने की मांग कर रहे हैं. इस मुद्दे पर भारतीय फिल्म निर्माताओं का संगठन फिल्म एंड टेलीविजन प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया कह चुका है कि भविष्य में संगठन से जुड़े लोग पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे. इस संगठन के अध्यक्ष मुकेश भट्ट हैं. वे पूजा भट्ट के चाचा हैं.


‘कश्मीर, भारत और पाकिस्तान के बीच का मामला है, जिसे दोनों देशों को ही सुलझाना है.’

— टेरेसा मे, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री

टेरेसा मे का यह बयान ब्रिटेन की संसद में कश्मीर से जुड़े एक सवाल पर आया. पाकिस्तानी मूल के सांसद यासमीन कुरैशी ने पूछा था कि क्या टेरेसा भारत यात्रा के दौरान कश्मीर मामले पर चर्चा करेंगी. इस पर उन्होंने कहा कि कश्मीर मामले में ब्रिटेन की नीति में कोई बदलाव नहीं आया है, यह द्विपक्षीय मामला ही है. टेरेसा मे छह नवंबर से आठ नवंबर तक भारत यात्रा पर रहेंगी. उनके इस बयान से साफ हो गया कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय चर्चा के दौरान कश्मीर मसले को नहीं उठाएंगी. पाकिस्तान काफी समय से कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहा है.