नोटबंदी : वित्त मंत्रालय का किसानों को और राहत देने से इनकार

हर हफ्ते बैंकों से निकासी की सीमा 25,000 रुपये करने के अलावा केंद्र सरकार किसानों को और राहत देने के लिए तैयार नहीं दिखती. खबर के मुताबिक वित्तमंत्री अरुण जेटली ने इस संबंध में कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के एक प्रस्ताव को मानने से इनकार कर दिया है. इसमें मांग की गई थी कि किसानों को 24 नवंबर तक सरकारी बीज एजेंसियों से 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों से 10 हजार रुपए तक के बीज खरीदने की छूट दी जाए. (विस्तार से पढ़ें)

क्या 500 और 2000 रुपये के नए नोट वापस लिए जा सकते हैं?

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के पीछे माने जाने संगठन अर्थक्रांति मुताबिक अगले छह से 12 महीनों के भीतर 500 और 2,000 रुपये के नए नोट वापस लिए जा सकते हैं. संगठन का कहना है कि तब तक देश कैशलेस (नगदी के बिना) इकनॉमी को काफी हद तक अपना चुका होगा. खबर के मुताबिक संगठन की सलाह अगर मानी गई तो गरीब तबके को ध्यान में रखते हुए सिर्फ 100, 50 और इससे नीचे के नोट ही चलन में रखेगी. (विस्तार से पढ़ें)

नोटबंदी : अमिट स्याही के इस्तेमाल पर चुनाव आयोग चिंतित

चुनाव आयोग ने बैंकों से पुराने नोट बदलने वालों की उंगलियों पर अमिट स्याही से निशान लगाने पर चिंता जताई है. वित्त मंत्रालय को लिखे गए पत्र में आयोग ने कहा है कि इससे राज्यों में होने वाले चुनावों में भ्रम की स्थिति पैदा हो सकती है. आयोग ने मंत्रालय से इसकी जगह दूसरे विकल्प की तलाश करने के लिए कहा है. (विस्तार से पढ़ें)

सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर से जुड़े मामलों की जल्द सुनवाई के लिए तैयार

सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर संबंधी मामलों की जल्द सुनवाई के लिए दायर की गई एक याचिका को स्वीकार कर लिया है. अदालत में यह याचिका भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दायर की थी. इसमें उन्होंने संविधान के अनुच्छेद-32 को आधार बनाया है. स्वामी के मुताबिक फैसले में देरी से लोगों के पूजा करने और मानव गरिमा के साथ जीने जैसे संवैधानिक अधिकार प्रभावित हो रहे हैं. (विस्तार से पढ़ें)

नोटबंदी के बाद समस्या गंभीर हो रही है, ऐसे में सड़कों पर दंगे हो जाएंगे : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट और निचली अदालतों में नोटबंदी से जुड़ी याचिकाओं की सुनवाई पर रोक लगाने से इनकार कर दिया. केंद्र सरकार ने अदालत से नोटबंदी के खिलाफ दायर की गई याचिकाओं की सुनवाई पर रोक लगाए जाने की मांग की थी. खबर के मुताबिक मुख्य न्यायाधीश टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि नोटबंदी के बाद समस्या गंभीर हो रही है, ऐसे में सड़कों पर दंगे हो जाएंगे. (विस्तार से पढ़ें)

मोजाम्बिक : टैंकर में विस्फोट, 73 की मौत

अफ्रीकी देश मोजाम्बिक में पेट्रोल ले जा रहे एक टैंकर में विस्फोट होने की वजह से 73 लोगों की मौत हो गई. हादसे में 110 लोगों के घायल होने की भी खबर है. अधिकारियों के मुताबिक इनमें कइयों की स्थिति काफी गंभीर है. घायलों में कई बच्चे भी हैं. आधिकारिक बयान में कहा गया है कि टेटे प्रांत में यह घटना तब हुई जब लोग टैंकर से पेट्रोल निकाल रहे थे. (विस्तार से पढ़ें)

ट्रंप भरोसेमंद राजनेता : शिंजो अबे

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने अगले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भरोसेमंद नेता बताया है. न्यूयॉर्क में ट्रंप के साथ करीब डेढ़ घंटे की मुलाकात के बाद उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि बगैर भरोसे के दो देशों की साझेदारी टिकाऊ नहीं होती. अब उनसे मुलाकात करने के बाद मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि ट्रंप पर भरोसा किया जा सकता है.’ उधर, ट्रंप ने इस मुलाकात को एक बेहतर दोस्ती की शुरुआत बताया है. (विस्तार से पढ़ें)

न्यायाधीशों की नियुक्ति मामले पर सुप्रीम कोर्ट और सरकार के बीच टकराव बढ़ने की आशंका

देश के अलग-अलग हाईकोर्टों में न्यायाधीशों की नियुक्ति को लेकर केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट के बीच टकराव और बढ़ने की आशंका है. शुक्रवार को शीर्ष अदालत ने सरकार के 43 नामों को खारिज किए जाने के फैसले को मानने से इनकार कर दिया. मुख्य न्यायाधीश टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली पीठ ने पुनर्विचार के लिए भेजे गए इन नामों को एक बार फिर से सरकार के पास भेजे जाने की बात कही है. (विस्तार से पढ़ें)