रेलवे ने राजधानी, शताब्दी और दुरंतो ट्रेनों में खाली सीटों की समस्या से निपटने के लिए किराए में छूट देने की योजना बनाई है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन ट्रेनों का चार्ट तैयार होने के बाद खाली बची सीटों के किराए में 10 फीसदी की छूट दी जाएगी. यह छूट चार्ट तैयार होने से ठीक पहले बिके आखिरी टिकट की कीमत पर मिलेगी. इसे प्रयोग के तौर पर 15 दिसंबर 2016 से 31 मई 2017 तक लागू किया जाएगा. इन टिकटों को रेलवे स्टेशन पर तत्काल टिकट बुकिंग काउंटर और ई-टिकटिंग वेबसाइट आईआरसीटीसी से ट्रेन रवाना होने के समय से 30 मिनट पहले तक खरीदा जा सकेगा.

रेलवे ने इसी साल नौ सितंबर से राजधानी, शताब्दी और दुरंतो जैसी प्रीमियम ट्रेनों की टिकट बिक्री के लिए विमान कंपनियों की तरह फ्लेक्सी फेयर स्कीम लागू की है. लेकिन, इसके नतीजे बहुत उत्साहजनक नहीं रहे हैं. अब इन ट्रेनों में सीटों के खाली रहने की समस्या देखी जा रही है. यही नहीं, दीपावली जैसे त्योहारी सीजन में भी रेलवे इस योजना से उम्मीद के मुताबिक राजस्व जुटाने में नाकाम रहा.

पिछले दिनों रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेलवे की आमदनी बढ़ाने के लिए रेलवे बोर्ड को कई सुझाव दिए थे. इनमें रेलवे यात्रियों को सब्सिडी छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करने , सप्ताहांत के लिए विशेष किराया योजना लाने और ट्रेनों की खाली सीटों पर छूट देने जैसे कई सुझाव शामिल थे.