मोदी सरकार ने नकदी रहित भुगतान यानी कैशलेस पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए विशेष ईनामी योजनाओं की घोषणा की है. इसके तहत कैशलेस पेमेंट करने पर लोग एक करोड़ रुपए तक के ईनाम जीत सकते हैं. नीति आयोग के चेयरमैन अमिताभ कांत ने गुरूवार को बताया कि ये योजनाएं ग्राहकों और व्यापारियों दोनों के लिए लाई जा रही हैं. उनके मुताबिक ग्राहकों के लिए 'लकी ग्राहक योजना' और व्यापारियों के लिए 'डिजी धन व्यापारी योजना' शुरू की जा रही हैं.

अमिताभ कांत के मुताबिक 'लकी ग्राहक योजना' के तहत 25 दिसंबर से प्रतिदिन 15000 विजेताओं का चयन किया जाएगा और प्रत्येक विजेता को 1000 रुपए का ईनाम दिया जाएगा. 'डिजिटल धन व्यापारी योजना' भी 25 दिसंबर से ही शुरू होगी. इसके तहत हर हफ्ते सात हजार व्यापारियों को अधिकतम 50 हजार रुपए तक के पुरस्कार दिए जाएंगे. 100 दिनों तक चलने वाली इन योजनाओं के विजेताओं का ऐलान नेशनल पेमेंट्स कमीशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा किया जाएगा.

नीति आयोग के मुताबिक 13 अप्रैल को ये योजनाएं खत्म होने के बाद 14 अप्रैल को ग्राहकों और व्यापारियों दोनों के लिए अलग-अलग मेगा ड्रॉ निकाले जाएंगे. ग्राहक श्रेणी के मेगा ड्रॉ में विजेताओं को एक करोड़, 50 लाख और 25 लाख रुपए की रकम मिलेगी. व्यापारी श्रेणी वाले मेगा ड्रॉ में 50 लाख, 25 लाख और पांच लाख रुपए का ईनाम दिया जाएगा.

खबरों के मुताबिक कुल 340 करोड़ रुपए की इन योजनाओं में कुछ शर्तें भी शामिल की गई हैं. जैसे प्राइवेट क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड और निजी कंपनियों के ई-वॉलेट इस योजना का हिस्सा नहीं होंगे. इसके अलावा 50 रुपए से 3000 रुपए तक के कैशलेस भुगतान को ही इन योजनाओं में शामिल किया जाएगा.