दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर मंगलवार सुबह एक हादसा होते-होते रह गया. यहां रनवे पर दो विमान आमने-सामने आ गए थे लेकिन, पायलटों की सतर्कता ने इनकी टक्कर बचा ली. खबरों के अनुसार इंडिगो एयरलाइंस का विमान यात्रियों को उतारने के लिए टैक्सीवे की ओर जा रहा था, तभी सामने से स्पाइस जेट का विमान आ गया जो उड़ान भरने रनवे की तरफ जा रहा था. इंडिगो का विमान थोड़ी देर पहले ही लखनऊ से दिल्ली पहुंचा था, जिसमें चालक दल सहित 176 लोग सवार थे. नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इस घटना की जांच का आदेश दे दिया है. इसमें एयर ट्रैफिक कंट्रोल की भूमिका की जांच भी शामिल है.

उधर, गोवा के नेवी एयरपोर्ट पर 161 यात्रियों के साथ उड़ान भरने जा रहे एक विमान का इंजन अचानक बंद हो गया और वह रनवे पर फिसल गया. जेट एयरवेज के इस विमान से इमरजेंसी स्लाइड के जरिए यात्रियों को बाहर निकालने के दौरान 15 यात्री मामूली रूप से घायल हो गए. इससे थोड़ी देर के लिए विमानों की आवाजाही प्रभावित हुई. डीजीसीए और एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इनवेस्टीगेशन ब्यूरो ने इसकी जांच का आदेश दे दिया है.

जेट एयरवेज ने घायल यात्रियों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराने और अन्य यात्रियों को मुंबई भेजने की व्यवस्था करने की जानकारी दी है. हालांकि, समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक जेट एयरवेज के यात्रियों ने गोवा एयरपोर्ट पर बदइंतजामी का आरोप लगाया है. एक यात्री ने कहा कि हालात नाजुक हैं, कोई मदद नहीं कर रहा है और अधिकारी जवाब नहीं दे रहे हैं. दूसरे यात्री का कहना है कि रनवे पर विमान के फिसलने के बाद 20-25 मिनट तक कोई भी बचावकर्मी घटनास्थल पर नहीं पहुंच सका था.