‘राहुल गांधी काला धन रखने वालों के प्रवक्ता बन गए हैं.’

— शाहनवाज हुसैन, भाजपा के प्रवक्ता

शाहनवाज हुसैन का यह बयान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने के जवाब में आया. राहुल गांधी को पार्ट टाइम नेता बताते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष गरीबों का नहीं, बल्कि अपना दर्द बयां कर रहे हैं. भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि राहुल गांधी निराश हैं और वे एक ही बात बार-बार दोहरा रहे हैं जिसे कोई नहीं सुनना चाहता. 2019 में कांग्रेस के सत्ता में आने के बयान पर उन्होंने कहा कि 2014 में लोकसभा चुनाव हारने के बाद से कांग्रेस की पराजय का क्रम जारी है. शाहनवाज हुसैन ने दावा किया कि पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों में भी देश कांग्रेस मुक्त भारत की दिशा में आगे बढ़ेगा.

सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी से अदालत की कार्यक्षमता प्रभावित हो रही है.’

— जगदीश सिंह खेहर, सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश

मुख्य न्यायाधीश ने यह बात सुप्रीम कोर्ट में एक मुकदमे की सुनवाई के दौरान कही. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में जजों के 31 स्वीकृत पदों के मुकाबले केवल 23 जज ही हैं. शीर्ष अदालत लंबे समय से उच्च न्यायपालिका में जजों की कमी की शिकायत कर रही है. इससे पहले पूर्व मुख्य न्यायाधीश टीएस ठाकुर ने कई बार जजों की नियुक्ति में देरी का मुद्दा उठाया था और सरकार के खिलाफ सख्त टिप्पणी की थी. पिछले साल अक्टूबर में इस मामले में सख्त रुख अपनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से सवाल किया था, ‘क्यों न पूरे संस्थान में ताला लगा दिया जाए.’


‘जम्मू-कश्मीर के 4,080 गुमशुदा और उग्रवादी अभी भी पाकिस्तान या पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में हैं.’

— महबूबा मुफ्ती, जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री

महबूबा मुफ्ती ने बयान जम्मू-कश्मीर विधानसभा में दिया. पाकिस्तान और पाकिस्तान अधिकृत (पीओके) से वापसी करने वाले पूर्व उग्रवादियों के सवाल पर उन्होंने कहा कि सीआईडी के मुताबिक 2010 से अब तक 337 पूर्व उग्रवादी 864 परिजनों के साथ नेपाल और बांग्लादेश के रास्ते वापस आए हैं. महबूबा मुफ्ती ने बताया कि 2010 में उग्रवादियों के पुनर्वास के लिए बनी नीति के तहत एक भी युवा अधिकृत रास्तों से वापस नहीं लौटा है, जिसके चलते किसी को भी इसका लाभ नहीं मिला है. इन रास्तों में नियंत्रण रेखा पर बाघा अटारी, सालामांदर, चकन दा बाग और इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा शामिल हैं.


‘देश में 30 फीसदी ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी हैं.’

— नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री

नितिन गडकरी का यह बयान नई दिल्ली में सड़क सुरक्षा से जुड़े एक कार्यक्रम में आया. उन्होंने कहा कि ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर तत्काल कार्रवाई करने की व्यवस्था को मजबूत करने के लिए इंटेलिजेंट ट्रैफिक सिस्टम के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लोग ट्रैफिक नियमों का पालन करें, इसके लिए सरकार जुर्माना बढ़ाने जैसा कदम उठा सकती है. सड़क सुरक्षा उपायों की कमी को स्वीकार करते हुए सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि दुर्घटना संभावित क्षेत्रों की पहचान करना और सड़कों के डिजाइन में बदलाव की जरूरत है.


‘नोटबंदी के अभी और घातक परिणाम आने बाकी हैं.’

— मनमोहन सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री

पूर्व प्रधानमंत्री का यह बयान नई दिल्ली में कांग्रेस के जनवेदना सम्मेलन में आया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी ने देश को गंभीर चोट पहुंचाई है. पूर्व प्रधानमंत्री के मुताबिक हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं जबकि राष्ट्रीय आय में बढ़ोतरी का प्रधानमंत्री मोदी का दावा खोखला साबित हुआ है. मनमोहन सिंह ने कहा कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) घटकर 6.3 फीसदी रहने का अनुमान नोटबंदी के घातक असर को बता रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में बदलाव लाने का मोदीजी का नारा जमीन पर उतरने से पहले ही अपने अंत की तरफ बढ़ गया है.


‘पाकिस्तान को बहुत जल्द अल्पसंख्यक हितैषी देश की मान्यता मिल जाएगी.’

— नवाज शरीफ, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

नवाज शरीफ का यह बयान कटासराज मंदिर के अमृतजल कुंड के लिए जलशोधन प्लांट का उद्घाटन करने के बाद आया. उन्होंने कहा कि इस मंदिर के जीर्णोद्धार का काम अगले डेढ़ साल यानी उनके कार्यकाल में ही पूरा कर लिया जाएगा. प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बाबा गुरु नानक और गांधार विश्वविद्यालयों के निर्माण के लिए मदद देने का आश्वासन भी दिया. उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यकों और बहुसंख्यकों को बराबरी की नजर से देखना इस्लामिक मान्यता का हिस्सा है. नवाज शरीफ ने कहा कि देश की सुरक्षा, शांति और खुशहाली में मुस्लिम, हिंदू, सिख, ईसाई, पारसी और बहाई सभी समुदायों का साझा योगदान है.