अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कार्यकाल के पहले ही दिन बता दिया कि वे अपने चुनावी वादों को लेकर सख्ती से आगे बढ़ने वाले हैं. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के कुछ घंटों के भीतर ही ट्रंप ने ‘अफोर्डेबल केयर एक्ट’ के ज्यादा से ज्यादा प्रावधानों को बदलने संबंधी एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिये. इस कानून का लोकप्रिय नाम ओबामाकेयर भी है. ट्रंप ने शुक्रवार को अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली है.

व्हाइट हाउस के चीफ आफ द स्टाफ रेंस प्रीबस ने बताया कि नए राष्ट्रपति के निर्देशों का मकसद इस कानून से पड़ने वाले आर्थिक बोझ को कम करना है. राष्ट्रपति चुनाव के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने इसे खत्म करने और इसकी जगह पर दूसरी व्यवस्था लाने का वादा किया था. स्वास्थ्य देखभाल से जुड़ा यह कानून सात साल पहले पारित हुआ था. इससे लगभग दो करोड़ अमेरिकी नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा के दायरे में लाया गया था. पिछले कुछ वर्षों में ओबामाकेयर को खत्म करने या सीमित करने के लिए अमेरिकी संसद में 60 से ज्यादा बार मतदान हो चुका है.

इस बीच व्हाइट हाउस की आधिकारिक वेबसाइट से नागरिक अधिकारों, जलवायु परिवर्तन और समलैंगिक अधिकारों के पेजों को हटा दिया गया है. इन मुद्दों से पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा बहुत नजदीकी से जुड़े थे. साफ है कि उनकी विदाई के साथ इन मुद्दों पर व्हाइट हाउस का रुख बदलने वाला है.