केरल में सत्ताधारी पार्टी सीपीआई (एम) के छह कार्यकर्ताओं को भाजपा के एक कार्यकर्ता की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. कन्नूर जिले के अंदालूर निवासी संतोष पर बीते बुधवार की रात कुछ अज्ञात लोगों ने जानलेवा हमला किया था. हमले में बुरी तरह घायल हुए 52 वर्षीय संतोष की इलाज के दौरान मौत हो गयी थी.

भाजपा की जिला इकाई इस मामले को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रही थी. उसने इस हमले के लिए सीपीएम के कुछ स्थानीय कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया था. अंदालूर का यह इलाका मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के विधानसभा क्षेत्र धर्मादोम के पास है. केरल भाजपा के वरिष्ठ नेता मुख्यमंत्री विजयन से इस घटना को लेकर जवाब मांग रहे थे.

केरल के कन्नूर और तिरुवनंतपुरम जिलों के ग्रामीण इलाकों में संघ और सीपीएम कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट या हिंसा आम बात है. पिछले साल संघ और सीपीएम से जुड़े कार्यकर्ताओं के बीच एक झड़प में छह लोग मारे गए थे. आंकड़ों के मुताबिक बीते तीन दशकों में यहां हुए खूनी संघर्षों में दोनों पक्षों के 200 से ज्यादा कार्यकर्ता मारे जा चुके हैं. केरल में पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव से पहले भी दोनों पक्षों के बीच कई हिंसक झड़पें हुई थीं.