उत्तर प्रदेश में कई दौर की बातचीत के बाद रविवार को समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस के बीच गठबंधन का ऐलान कर दिया गया. विधानसभा चुनाव में सपा 298 सीटों पर लड़ेगी जबकि कांग्रेस 105 सीटों पर. आज करीब सभी अखबारों ने इसे मुख्य पृष्ठ पर पहली या दूसरी खबर के रूप में जगह दी है. अखबारों के मुताबिक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी ने सीटों के मुद्दे को सुलझाने के लिए अखिलेश यादव से बात की थी. गठबंधन के ऐलान के बाद कांग्रेस के उत्तर प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि इससे दोनों दलों को फायदा होगा. अखिलेश यादव पहले से ही कांग्रेस के साथ गठबंधन होने पर कुल 403 सीटों में से 300 से अधिक सीटें जीतने का दावा करते रहे हैं.

आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखंड एक्सप्रेस के शनिवार रात को बेपटरी होने की वजह से 39 यात्रियों की मौत हो गई. द टाइम्स ऑफ इंडिया ने मृतकों की संख्या 41 बताई है. आज करीब सभी अखबारों ने इस खबर को मुख्य पृष्ठ पर फोटो के साथ जगह दी है. इस दुर्घटना के बाद रेलवे ने इसके पीछे किसी साजिश की आशंका जताई है. बीते तीन महीने में यह तीसरी बड़ी रेल दुर्घटना है. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में ताजा बर्फबारी की वजह से श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय मार्ग बंद होने की खबर भी आज अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है.

देश में करीब आधे वकील फर्जी : बार काउंसिल ऑफ इंडिया

बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) के आंकड़े के मुताबिक देश में करीब आधे वकील फर्जी हैं. द टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक बीसीआई ने दो साल पहले वकीलों की डिग्री जांचने के लिए एक अभियान चलाया था. इसमें यह बात सामने आई कि केवल 55 से 60 फीसदी की डिग्री ही असली है या उनके पास वैध लाइसेंस है. बीते हफ्ते काउंसिल के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जेसएस खेहर और अन्य वरिष्ठ न्यायाधीशों को इसकी जानकारी दी है. मुख्य न्यायाधीश ने फर्जी डिग्री के साथ-साथ वकीलों के बिना लाइसेंस के अदालतों में वकालत करने पर भी अपनी चिंता जाहिर की.

बीसीआई अध्यक्ष ने बताया, ‘2012 में काउंसिल के चुनावी आंकड़ों के मुताबिक हमारे पास 14 लाख वोटर थे. इसके बाद जब हमने वैधता जांचने के लिए प्रक्रिया शुरू की तो केवल 6.5 लाख ही आवेदन आए.’ बीसीआई में वोटर स्टेट बार काउंसिल में रजिस्टर्ड वकील होते हैं.

तमिलनाडु : जलीकट्टू के आयोजन के दौरान दो लोगों की मौत, विरोध प्रदर्शन जारी

तमिलनाडु के पुडुकोट्टई में रविवार को जलीकट्टू के आयोजन के दौरान दो लोगों की मौत हो गई जबकि मदुरै में एक विरोध प्रदर्शनकारी ने शरीर में पानी की कमी के चलते दम तोड़ दिया. इसके अलावा पूरे राज्य में इस खेल के दौरान 85 लोगों के घायल होने की खबर है. जनसत्ता के मुताबिक जलीकट्टू पर लगी रोक हटाने के लिए अध्यादेश लाए जाने के बाद भी राज्य में विरोध प्रदर्शन खत्म नहीं किया गया है. बताया जाता है प्रदर्शनकारियों ने मदुरै में मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम को जलीकट्टू का उद्घाटन नहीं करने दिया. वे इसका स्थायी समाधान चाहते हैं. हालांकि चेन्नई रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने कहा कि इस खेल पर रोक को पूरी तरह से हटा दी गई है.

अखबार के मुताबिक सोमवार से तमिलनाडु विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है. इसमें जल्लीकट्टू का मुद्दा छाए रहने की पूरी संभावना है. राज्य सरकार इस खेल के आयोजन के लिए अध्यादेश की जगह विधेयक लाने की तैयारी कर रही है. प्रदर्शनकारी सरकार से मामले के स्थायी समाधान के साथ जानवरों के अधिकार के सक्रिय संगठन पेटा पर प्रतिबंध लगाने की भी मांग कर रहे हैं.

बजट में अगले आम चुनाव से पहले प्रमुख योजनाओं के लक्ष्यों को पूरा करने पर जोर

एक फरवरी, 2017 को संसद में पेश होने वाले बजट में मोदी सरकार का जोर अगले आम चुनाव से पहले प्रमुख योजनाओं के लक्ष्यों को पूरा करने पर होगा. इसके अलावा इन योजनाओं का लाभ सबसे जरूरतमंद व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए प्रयास किए जाएंगे. बिजनेस स्टैंडर्ड ने इसे पहले पन्ने पर मुख्य खबर के रूप में जगह दी है. खबर के मुताबिक पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों को देखते हुए सरकार पर दबाव बना हुआ है.

अखबार ने आधिकारिक सूत्रों के हवाले से कहा है कि नोटबंदी के बुरे असर को कम करने के लिए सरकार ग्रामीण विकास और सामाजिक योजनाओं के लिए बजट आवंटन पहले की तुलना में बढ़ा सकती है. इसके अलावा मध्यवर्ग को खुश करने के लिए आयकर की सीमा को भी बढ़ाया जा सकता है. फिलहाल यह 2.5 लाख रुपये सालाना है. अधिकारियों ने अखबार को बताया कि नोटबंदी के उम्मीदों के मुताबिक नतीजे नहीं निकलने की वजह से सरकार असहज स्थिति में है. ऐसी स्थिति में प्रधानमंत्री के वादे के मुताबिक इस फैसले और इसके ‘लाभ’ को दिखाना बजट योजनाकारों की मजबूरी है.

सपा के साथ कांग्रेस का गठबंधन प्रियंका गांधी की सफलता

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश चुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस के बीच गठबंधन प्रियंका गांधी की सफलता है. कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल ने इस बात की पुष्टि की है. उन्होंने कहा, ‘सपा के साथ गठबंधन के लिए राज्य में पार्टी के प्रभारी गुलाम नबी आजाद और प्रियंका गांधी अखिलेश यादव के साथ संपर्क में थे.’ बीते हफ्ते सपा के 209 उम्मीदवारों की सूची जारी होने के बाद इस गठबंधन पर पेंच फंस गया था. इसके बाद प्रियंका गांधी ने अपने एक खास व्यक्ति को अखिलेश यादव के पास बातचीत के लिए लखनऊ भेजा था. यह पहला मौका था जब प्रियंका गांधी सपा के साथ गठबंधन के लिए सक्रिय हुई थीं.

बताया जाता है कि प्रियंका गांधी अब कांग्रेस में विधानसभा चुनावों के लिए रणनीति तय करने के लिए होने वाली बैठकों में भी सक्रिय भूमिका निभा रही हैं. इसके अलावा वे राज्य में पार्टी के चुनाव अभियान में हिस्सा लेंगी. कांग्रेसी नेता मानते हैं कि प्रियंका गांधी के राजनीति में सक्रिय होने की वजह से न सिर्फ पार्टी में नई जान आ जाएगी बल्कि पूरे राज्य के लोगों का पार्टी पर विश्वास मजबूत होगा.

आज का कार्टून

तमिलनाडु में जलीकट्टू पर रोक हटाने के लिए अध्यादेश लाने और रविवार को इसके आयोजन के बाद भी विरोध प्रदर्शनकारी चेन्नई के मरीना बीच पर हजारों की संख्या में डटे हुए हैं. उनकी मांग है कि मामले का स्थाई समाधान किया जाए. इसके समर्थन में राज्य के साथ देशभर में बड़ी हस्तियों ने प्रदर्शनकारियों का समर्थन किया है. इस बीच आई कई खबरों में कहा गया है कि जलीकट्टू का आयोजन दरअसल शहरी मध्य वर्ग का प्रदर्शन है. दूसरी ओर, राज्य के सभी 32 जिले सूखे का सामना कर रहे हैं. राज्य सरकार ने सूखे की स्थिति से निपटने के लिए करीब 40 हजार करोड़ रुपये की मांग की है. जलीकट्टू विवाद को राष्ट्रीय मीडिया में तो काफी जगह दी गई लेकिन, सूखे की वजह से किसानों के दर्द को इस बीच जगह नहीं मिल पाई. द हिंदू का आज का कार्टून इसी विषय पर है.