आम बजट में शामिल रेल बजट को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कई प्रमुख घोषणाएं की हैं. इसमें ऑनलाइन टिकट खरीदने वाले यात्रियों के लिए बड़ी राहत की घोषणा की गई है. वित्त मंत्री ने बताया कि रेलवे की ऑनलाइन टिकट बुकिंग वेबसाइट आईआरसीटीसी से टिकट लेने पर लगने वाले सर्विस चार्ज यानी सेवा शुल्क को वापस ले लिया गया है. इसके अलावा उन्होंने वित्त वर्ष 2017-18 में 25 नए स्टेशन विकसित करने और रेलवे की सुरक्षा बढ़ाने के लिए अगले पांच साल में एक लाख करोड़ रुपये से रेलवे सुरक्षा कोष तैयार करने का भी प्रस्ताव रखा.

वित्त मंत्री ने कहा कि देश में मेट्रो ट्रेनों के विकास के लिए नई मेट्रो रेल नीति लाई जाएगी. 2020 तक सभी मानवरहित क्रॉसिंगों को खत्म करने के लक्ष्य का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि 2019 तक सभी सवारी डिब्बों में बॉयो-टायलेट लगा दिया जाएगा. अरुण जेटली ने वित्त वर्ष 2017-18 में 3,500 किमी नई रेलवे लाइन शुरू करने की भी बात कही.

वित्त वर्ष 2017-18 में रेलवे का पूंजीगत और विकास संबंधी कुल खर्च 1.31 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है. इसमें सरकार से मिलने वाली 55,000 करोड़ रुपये की राशि शामिल होगी. वित्त मंत्री ने रेलवे की इरकॉन और आईआरसीटीसी जैसी कंपनियों को शेयर बाजार से जोड़ने की भी घोषणा की.