उत्तर प्रदेश चुनाव का आखिरी चरण आते-आते जुबानी जंग भी चरम पर पहुंच रही है. शनिवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. पांचवें चरण के मतदान से पहले सिद्धार्थनगर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘अब तक हमने इतना झूठ बोलने वाला प्रधानमंत्री नहीं देखा. इतना बड़ा सपना दिखाने वाला प्रधानमंत्री भी नहीं देखा.’ अखिलेश यादव ने भाजपा को सबसे बड़ी जुमलेबाज पार्टी बताया और हमेशा जहर उगलने का आरोप लगाया.

प्रधानमंत्री मोदी के नकल वाले बयान का जवाब देते हुए अखिलेश यादव नकल का समर्थन कर गए. उन्होंने कहा, ‘थोड़ी बहुत नकल कौन नहीं करता. थोड़ी-बहुत सब कर लेते हैं. प्रधानमंत्री जी, आप भी तो नकल कर रहे हो दूसरी चीजों की. हम तो पढ़ाई की नकल कर रहे हैं. बताओ कपड़े पहनने की नकल कौन कर रहा है? लाखों रुपये के कपड़ों की नकल कौन कर रहा है.’ उनका इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने नाम वाले सूट की तरफ था. अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री मोदी पर कपड़ों से लेकर योजनाओं तक की नकल करने का आरोप लगाया. इससे पहले शुक्रवार को गोंडा में प्रधानमंत्री मोदी ने नकल माफियाओं का मुद्दा उठाया था और इसे युवाओं के भविष्य को तबाह करने वाला बताया था.

अखिलेश यादव ने नोटबंदी के लाभों पर प्रधानमंत्री मोदी को खुली बहस की चुनौती दी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री यह क्यों नहीं बता रहे कि नोटबंदी से किसे कितना फायदा हुआ है. अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि केंद्र में भाजपा सरकार आए तीन साल बीत गए, लेकिन जमीन पर कोई काम नहीं हुआ. सपा-कांग्रेस गठबंधन के पक्ष में मतदान की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का चुनाव देश का भविष्य तय करने वाला है.