चार टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रनों से हरा दिया है. पुणे में 441 रनों का लक्ष्य हासिल करने उतरी भारतीय टीम दूसरी पारी में 107 रनों पर ही ढेर हो गई. टेस्ट में नंबर एक टीम भारत के लिए यह हार एक बड़ा झटका है. 2012 के बाद यह पहली बार है जब वह अपनी जमीन पर कोई टेस्ट हारी है. अपने बल्लेबाजों के लिए मशहूर भारतीय टीम के स्कोर का आंकड़ा दोनों पारियों में 100 के आसपास सिमट गया.

ऑस्ट्रेलिया के स्पिन गेंदबाज़ स्टीव ओ कीफ ने इसमें बड़ी भूमिका निभाई. भारत में अपना पहला टेस्ट खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के इस स्पिन गेंदबाज ने पहली पारी में भारतीय टीम के छह विकेट लिए थे. दूसरी पारी में भी कीफ ने छह भारतीय बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया. इस शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया.

पुणे टेस्ट से पहले कीफ ने ऑस्ट्रेलिया के लिए सिर्फ चार टेस्ट मैच खेले थे जिनमें उन्होंने 14 विकेट लिए थे. इस साधारण प्रदर्शन को देखते हुए उनका भारत दौरे के लिए चयन हुआ तो कई दिग्गज खिलाड़ियों ने इस फैसले पर सवाल भी उठाए थे. लेकिन कीफ ने अपने शानदार प्रदर्शन से सबका मुंह बंद कर दिया है.