अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने व्यवहार से लगातार चर्चा में बने रहते हैं. ताजा मामला मीडियाकर्मियों के कहने के बावजूद उनका जर्मन चांसलर अंगेला मर्केल से हाथ न मिलाकर कूटनीति की स्थापित परंपरा को तोड़ने का है. कूटनीतिक शिष्टाचार के तहत जब दो राष्ट्राध्यक्ष मीडिया से मुखातिब होते हैं तो वे एक-दूसरे से हाथ मिलाते हैं. लेकिन डोनाल्ड ट्रंप ने इस शिष्टाचार को निभाना जरूरी नहीं समझा और हाथ मिलाने की राय को अनसुना कर दिया. उनके इस व्यवहार की दुनिया भर में खूब आलोचना हो रही है.

इस समय जर्मनी की चांसलर अंगेला मर्केल अमेरिका के दौरे पर गई हुई हैं. व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में बैठक के बाद औपचारिक फोटो सेशन के लिए दोनों देशों के प्रमुख साथ-साथ बैठे थे. मौके पर मौजूद मीडियाकर्मियों ने बार-बार दोनों को हाथ मिलाने के लिए कहा. इस पर मर्केल ने ट्रंप से धीरे से पूछा कि क्या वे हाथ मिलाएंगे, पर डोनाल्ड ट्रंप ने इसे अनसुना कर दिया. उन्‍होंने न तो इनकार किया और न ही मर्केल से हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ ही बढ़ाया. वे सिर्फ मुस्‍कुराते रहे और मर्केल की तरफ देखा भी नहीं. अमेरिकी राष्ट्रपति के इस रूखे व्यवहार का असर मर्केल के चेहरे पर साफ नजर आ रहा था.

पूरी दुनिया में, विशेषकर सोशल मीडिया पर डोनाल्ड ट्रंप के इस व्यवहार की जमकर आलोचना हो रही है. माना जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह व्यवहार दोनों देशों के बीच हुई बातचीत के बहुत सफल न रहने के चलते किया. हालांकि जब मर्केल व्हाइट हाउस पहुंची थीं तो अमेरिकी राष्ट्रपति ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया था.