उत्तर प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इस सवाल पर कई दिनों से चल रहा संशय दूर हो गया है. भाजपा ने राजनीतिक रूप से देश में सबसे अहम इस सूबे की कमान योगी आदित्यनाथ को सौंपने का फैसला किया है. लखनऊ में भाजपा विधायक दल की बैठक में यह फैसला हुआ. केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा उप मुख्यमंत्री होंगे. शपथ ग्रहण समारोह कल होगा.

पूर्वांचल में गहरी पकड़ रखने वाले योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के विख्यात गोरखनाथ मठ के महंत हैं. उनका अपना एक संगठन भी है. इसका नाम है हिंदू युवा वाहिनी. बीते 10 साल से अधिक समय से वे भाजपा से जुड़े हुए हैं.

पांच जून 1972 को उत्तराखंड में जन्मे योगी आदित्यनाथ का नाम कभी अजय सिंह हुआ करता था. वे गोरखनाथ मंदिर के पूर्व महंत अवैद्यनाथ के उत्तराधिकारी हैं. 1998 में जब वे पहली बार सांसद बने तो उनकी उम्र महज 26 साल थी. तब से वे पांच बार लोकसभा पहुंच चुके हैं.