राज्यसभा में भाजपा सांसदों और मंत्रियों की अनुपस्थिति से नाराज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी सांसदों को आदेश दिया है कि वे संसद के दोनों सदनों में अपनी अधिकतम उपस्थिति सुनिश्चित करें. उन्होंने यह भी कहा कि सांसदों से सदन में मौजूद रहने का आग्रह नहीं किया जा सकता, सदन में मौजूद रहना उनका बुनियादी कर्तव्य है.

मंगलवार को संसद के उच्च सदन राज्यसभा में अजीब स्थिति देखने को मिली जब अपने मंत्रालयों से संबंधित सवालों का जवाब देने के लिए कई मंत्री सदन से गायब पाए गए. सभापति हामिद अंसारी ने इस पर नाखुशी जाहिर की. प्रधानमंत्री को जब इसकी सूचना मिली तो उन्होंने पार्टी सांसदों को नसीहत दी कि वे दोनों सदनों में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएं. पार्टी सांसदों से उन्होंने कहा कि दिल्ली से बाहर रहने पर वे किसी भी सांसद से फोन पर बात कर उनकी मौजूदगी का पता कर सकते हैं.