सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (नीट) की तैयारी कर रहे छात्रों को बड़ी राहत दी है. खबर के मुताबिक अदालत ने मेडिकल और डेंटल कोर्स के लिए नीट में अधिकतम आयु सीमा को हटा दिया है. न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस परीक्षा के लिए आवेदन करने की अवधि को भी बढ़ा दिया है. अब छात्र पांच अप्रैल तक इसके लिए आवेदन कर सकते हैं. यह परीक्षा सात मई को होनी है.

इससे पहले केंद्र सरकार ने जनवरी, 2017 में एक कार्यकारी आदेश जारी किया था. इसमें नीट के लिए अधिकतम आयु सीमा 25 साल कर दी गई थी. साथ ही परीक्षा में बैठने की संख्या सीमित करके इसे तीन कर दिया गया था. इन बदलावों के लिए मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) ने सिफारिश की थी. इसके बाद सरकार के इस आदेश को छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी.

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित समिति ने भी सरकार के इस आदेश को खारिज किया था. पूर्व न्यायाधीश आरएम लोढ़ा की अध्यक्षता वाली समिति का मानना था कि इस फैसले से डॉक्टरों की कमी से जूझ रही व्यवस्था में और भी मुश्किलें पैदा हो सकती हैं. बताया जाता है कि इस साल नीट के लिए अभी तक 11 लाख से अधिक छात्रों ने आवेदन किया है. नीट की परीक्षा पास करने पर छात्रों का एमसीआई और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त कॉलेजों में एडमिशन होता है.