उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक और बड़ा फैसला लिया है. उन्होंने राज्य के ऐसे सभी राशन कार्ड रद्द करने का आदेश दिया है जिन पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तस्वीरें लगी हुई हैं. राज्य की अखिलेश यादव सरकार ने अपने कार्यकाल में तीन करोड़ 40 लाख नए राशन कार्ड जारी किए थे इन सभी पर अखिलेश यादव की तस्वीर लगी हुई थी. खबरों के मुताबिक इन राशन कार्डों में से अब तक बांटे जा चुके दो करोड़ 80 लाख कार्ड रद्द कर दिए गए हैं, जबकि 60 लाख ऐसे राशन कार्ड जो अब तक बांटे नहीं गए हैं, उनके वितरण पर रोक लगा दी गई है.

एनडीटीवी के अनुसार योगी सरकार इन राशन कार्डों की जगह नया और आधुनिक तकनीक वाला राशन कार्ड जारी करेगी. यह नया राशन कार्ड स्मार्ट कार्ड वाला होगा जिस पर एक चिप लगी होगी. साथ ही इस पर एक बारकोड होगा जिससे हर कार्ड धारक को दिए गए राशन की सही स्थिति का पता लगाया जा सकेगा. खबरों के अनुसार प्रत्येक राशन कार्ड को आधार कार्ड से भी जोड़ा जाएगा. हालांकि, सरकार की ओर से कहा गया है कि जब तक नए राशन कार्ड नहीं बन जाते तब तक पर्ची सिस्टम अपनाया जाए.

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार का पिछले 24 घंटों में यह दूसरा बड़ा फैसला है. इससे पहले शनिवार को राज्य सरकार ने ‘गोमती रिवर फ्रंट डेवलपमेंट प्रोजेक्ट’ की जांच के आदेश दिए थे. यह प्रोजेक्ट अखिलेश यादव सरकार की सबसे महत्वपूर्ण परियोजनाओं में से एक माना जाता है. राज्य सरकार की ओर से जांच की मुख्य वजह प्रोजेक्ट पर अनुमान से काफी ज्यादा पैसा खर्च किया जाना बताया गया है.