उत्तर प्रदेश सरकार सभी सरकारी योजनाओं से ‘समाजवादी’ शब्द हटाने जा रही है. इसकी जगह पर अब ‘मुख्यमंत्री’ इस्तेमाल किया जाएगा. जैसे, ‘समाजवादी पेंशन योजना’, ‘समाजवादी एंबुलेंस सेवा’, ‘समाजवादी स्मार्टफोन योजना’ आदि अब ‘मुख्यंत्री पेंशन योजना’, ‘मुख्यमंत्री एंबुलेंस सेवा’ और ‘मुख्यमंत्री स्मार्टफोन योजना’ हो जाएगीं. प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने यह फैसला किया है.

योगी सरकार ने गुरुवार देर रात तक चली मंत्रिमंडल की बैठक में कई फैसले किए. इनमें सबसे अहम बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने का है. इसके मुताबिक, प्रदेश के गांवों में शाम छह बजे से सुबह 12 बजे तक 18 घंटे बिना कटौती के बिजली मिलेगी. जिला मुख्‍यालयों में 14 अप्रैल से 24 घंटे और तहसीलों पर भी 18 घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी. अगले 100 दिनों के भीतर बिजली के पांच लाख नए कनेक्‍शन दिए जाएंगे. इसके अलावा बिजली चोरी रोकने के लिए अधिकारियों को खाका तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं.

मुख्यमंत्री ने आगरा-लखनऊ एक्‍सप्रेस-वे के बचे काम को मई महीने तक पूरा करने का निर्देश दिया है. साथ ही कहा है कि पूर्वांचल एक्‍सप्रेस-वे के निर्माण की कार्यवाही सभी पहलुओं को ध्‍यान में रखते हुए की जाए. उन्होंने बुंदेलखंड से जुड़े मुद्दों पर भी अधिकारियों को विशेष ध्यान केंद्रित करने को कहा है.

नोएडा-ग्रेटर नोएडा की लंबित परियोजनाओं को जल्‍द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं. नोएडा से करीब 55 किलोमीटर दूर जेवर हवाईअड्‌डे को विकसित करने के लिए भी सरकार ने मंजूरी दे दी है. इस परियोजना को बसपा की मायावती सरकार ने मंजूर किया था. लेकिन समाजवादी पार्टी की अखिलेश यादव सरकार ने रोड़ा अटका दिया. अखिलेश सरकार आगरा में पूर्ण क्रियाशील हवाई अड्‌डा विकसित करना चाहती थी.