माधुरी दीक्षित की मिलियन डॉलर स्माइल आज भी दर्शकों को दीवाना बनाए हुए है. वे अपने अभिनय से ज्यादा अपने मस्ती भरे डांस के लिए जानी जाती हैं. बॉलीवुड डांस को नई डांस स्टाइल बनाने में भी माधुरी का बड़ा योगदान है. अपने दौर में वे डांस मूव्स के साथ कपड़े और हेयर स्टाइल के मामले में भी ट्रेंड सेटर थीं. उनके सिग्नेचर डांस स्टेप्स पर बॉलीवुड की टॉप हीरोइंस से लेकर मोहल्ले की आंटियां तक जब-तब थिरकती रहती हैं.

‘तेजाब’ का एक-दो-तीन गाना, शुरूआत के बाद मंद पड़ चुके माधुरी के करियर के लिए बूस्टर साबित हुआ था. यह फिल्म उनकी पहली मेनस्ट्रीम हिट थी. पहली बार ऐसा हुआ था कि कोई गाना फिल्म से भी ज्यादा लोकप्रिय हुआ था. लोग सिर्फ इस गाने को देखने के लिए ही थिएटर जाते थे और यह गाने से ज्यादा माधुरी के डांस का कमाल था. ‘एक-दो-तीन’ के बाद माधुरी का सबसे लोकप्रिय गाना ‘धक-धक करने लगा’ है. इस गाने के कारण ही माधुरी बॉलीवुड की ‘धक-धक गर्ल’ कही जाती हैं. साल 1991 में आई ‘बेटा’ फिल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट एक्ट्रेस पुरस्कार भी मिला.

माधुरी को उनके अंदाज में नचाने के श्रेय कोरियोग्राफर सरोज खान को जाता हैं. यह बात खुद माधुरी भी स्वीकार करती हैं. अपने एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा भी था कि अगर सरोज खान न होतीं तो शायद ही वे बॉलीवुड की डांस डीवा बन पातीं. डांस करते हुए माधुरी के शरीर में जो मस्ती दिखती है वह उन्हें लोकप्रिय बनाती है. सेंशुअस गानों में भी यह मस्ती बरकरार रहती है इसलिए वे जो भी करती हैं वह कभी अश्लील नहीं लगता. यह उनके साथ-साथ सरोज खान का भी कमाल है.

माधुरी के बारे में कहा जाता है कि वे अपने हर गाने पर बहुत मेहनत किया करतीं थीं. अपने हर गाने पर हफ्तों की रिहर्सल और कई दिनों की शूटिंग करने वाली माधुरी दीक्षित ने बॉलीवुड को कई नायाब डांस नंबर्स दिए. निर्देशक इंदर कुमार ने एक बार उनकी तारीफ में कहा था - ‘माधुरी गाने को गहना बना देती हैं’. इस वीडियो में उन्हें डांस दीवा बनाने वाले ऐसे ही पांच गानों की कहानी है: