केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति चिदंबरम के कई ठिकानों पर छापे मारने की खबर को आज के करीब सभी प्रमुख अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. जांच एजेंसी ने यह कार्रवाई मुंबई, दिल्ली, चेन्नई और गुरुग्राम में एक साथ की. इससे पहले सीबीआई ने दोनों के खिलाफ 2008 के एक मामले में एफआईआर दर्ज की थी. इसके अलावा आयकर विभाग ने मंगलवार को राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार की कथित बेनामी संपत्ति को लेकर दिल्ली-एनसीआर में 22 जगहों पर छापामारी की. इस खबर को भी अखबारों ने प्रमुखता से छापा है. राजद सुप्रीमो ने इसे केंद्र की साजिश बताया है.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के साथ खुफिया सूचनाएं साझा करने के फैसले का बचाव किया है. यह खबर आज के अंग्रेजी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने ट्वीट्स में कहा, ‘मैं राष्ट्रपति के रूप में रूस के साथ आतंकवाद के जोखिम और एयरलाइंस के सुरक्षा संबंधी तथ्य साझा करना चाहता था, जिसका मुझे पूरा अधिकार है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं मानवीय वजहों से चाहता हूं कि रूस इस्लामिक स्टेट और आतंकवाद के खिलाफ तेजी से कदम उठाए.’

रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए किराया बढ़ाने की तैयारी

रेल मंत्रालय यात्रियों की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए किराये में सेफ्टी सेस जोड़ सकता है. द एशियन एज ने इस खबर को पहले पन्ने पर जगह दी है. अखबार के मुताबिक रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को उम्मीद जताई कि यात्री एक लाख करोड़ रुपये के राष्ट्रीय रेल संरक्षा कोष में मदद करेंगे ताकि रेल की सुरक्षा बेहतर हो सके. उन्होंने कहा, ‘रेलवे यात्रियों को हर तरह की सुविधा उपलब्ध करायेगा. यात्रियों को भी मदद के लिए तैयार रहना होगा.’ साल 2017-18 के बजट में सरकार ने एक लाख करोड़ रुपये का संरक्षा कोष बनाने का ऐलान किया था. इस रकम का 75 फीसदी हिस्सा रेल मंत्रालय को खुद जुटाना है जबकि बाकी वित्त मंत्रालय उपलब्ध करायेगा.

जीएसटी के तहत ई-कॉमर्स कंपनियों के जरिये कारोबार करने वालों पर कर की तैयारी

केंद्र और राज्य सरकारें फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों के जरिये सामान बेच रहे व्यवसायियों पर वस्तु और सेवा कर के तहत आधा-आधा फीसदी कर लगाने की तैयारी में है. बिजनेस स्टैंडर्ड ने इसे अपनी पहली खबर के रूप में जगह दी है. बताया जाता है कि इस कर का संग्रह ई-कॉमर्स कंपनियों को ही करना होगा. इसके तहत ई-कॉमर्स कंपनियां अपनी वेबसाइट पर सामान बेचने वाले विक्रेताओं को भुगतान करते समय एक फीसदी कर की कटौती करेंगी. इससे पहले जीएसटी विधेयकों में एक-एक फीसदी कर लगाने का प्रस्ताव रखा गया था. हालांकि ई-कॉमर्स कंपनियों के सख्त एतराज को देखते हुए इसे 50 फीसदी घटा दिया गया.

यदि तीन तलाक इतना ही पवित्र है तो इसे निकाहनामे में शामिल क्यों नहीं? : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को तीन तलाक मुद्दे पर सुनवाई के दौरान ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से कई सख्त सवाल पूछे. हिन्दुस्तान की एक खबर के मुताबिक शीर्ष अदालत ने पूछा, ‘यदि तीन तलाक इतना ही पवित्र है तो इसे निकाहनामे में शामिल क्यों नहीं किया गया?’ मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर की अध्यक्षता वाली संवैधानिक पीठ ने आगे कहा कि निकाहनामे में महिला को भी तलाक देने की शक्तियां दी जाती हैं लेकिन, उसे तीन तलाक देने का अधिकार नहीं है. उधर, बोर्ड की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने दलील दी कि धार्मिक विद्वानों ने इसकी मनाही की हुई है. हालांकि उन्होंने माना कि यह तलाक का बेहद अवांछनीय रूप है. लेकिन उनका यह भी कहना था कि इसमें सुधार करने का काम मुस्लिम समाज पर ही छोड़ दिया जाए.

2014 के चुनाव में एनडीए की जीत में सोशल मीडिया की अहम भूमिका : स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी

अमेरिका स्थित स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी ने 2014 के चुनाव में भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय प्रजातांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की जीत में सोशल मीडिया की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया है. हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक विश्वविद्यालय द्वारा किए गए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि एनडीए अपने समर्थकों द्वारा पोस्ट ट्वीट और रीट्वीट करने के मामले में विरोधी पार्टियों से कहीं आगे था. साथ ही इसके समर्थकों की संख्या भी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की तुलना में अधिक थी. विश्वविद्यालय ने 1.55 करोड़ ट्विटर अकाउंटों और 1.06 करोड़ पोस्टों के अध्ययन के बाद यह निष्कर्ष निकाला है कि पारंपरिक राजनीतिक पार्टियों की चुनाव में हार की एक बड़ी वजह लोगों के साथ संवाद के लिए नई तकनीक को नहीं अपनाना रही है.

आज का कार्टून

अभिनेता रजनीकांत के राजनीति में आने की संभावना पर द हिंदू में प्रकाशित आज का कार्टून: