‘अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का फैसला जीत नहीं, बल्कि शुरुआत है.’   

— सोली सोराबजी, पूर्व अटॉर्नी जनरल

सोली सोराबजी का यह बयान पाकिस्तान में भारतीय ना​गरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गई मौत की सजा पर रोक लगाने वाले अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के अंतरिम आदेश पर आया. उन्होंने कहा, ‘इस फैसले पर बहुत ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं. क्योंकि जीत अभी दूर है.’ पूर्व अटॉर्नी जनरल ने आगे कहा कि इस फैसले से यह साबित हुआ है कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय को भारत के आरोपों में तथ्य दिखाई दिए हैं. सोली सोराबजी का यह भी कहना था कि अगर पाकिस्तान ने इस फैसले को नहीं माना तो यह उसके लिए राजनीतिक आत्महत्या करने जैसा कदम साबित होगा, जिसे वह सहन नहीं कर पाएगा.

‘राजनीति में आने का फैसला सही समय पर लिया जाएगा.’   

— रजनीकांत, अभिनेता

अभिनेता रजनीकांत ने यह बात भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के बयान के जवाब में कही. सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा था कि रजनीकांत का राजनीति में उतरना तमिल राजनीति के लिए ‘आपदा’ होगी. इस पर उन्होंने कहा, ‘मेरे पास आप लोगों की तरह काम और जिम्मेदारियां हैं, अभी उन्हें देखना है. लेकिन निर्णायक लड़ाई से पहले हम लोग (रजनीकांत के प्रशंसक) फैसला करेंगे.’ स्टालिन, अंबुमणि रामदास जैसे नेताओं को अच्छा बदलाव लाने के लिए सक्षम बताते हुए रजनीकांत ने कहा कि यह व्यवस्था सड़ चुकी है, जिसे रास्ते पर लाने के लिए बड़े सुधार करने होंगे.


‘अरविंद केजरीवाल माफिया हैं, मैं उन्हें तिहाड़ पहुंचाकर दम लूंगा.’   

— कपिल मिश्रा, दिल्ली के पूर्व मंत्री

कपिल मिश्रा का यह बयान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हवाला कारोबारियों से सांठगांठ होने का आरोप लगाते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल आयकर अधिकारी रहे हैं, इसलिए उन्हें पता है कि गलत काम कैसे करना है.’ कपिल मिश्रा ने कहा कि उन्हें अभी तक अपने सवालों का मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित आम आदमी पार्टी के किसी भी नेता से कोई जवाब नहीं मिला है. दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री ने कहा कि पार्टी कई मामलों में फंसे मुकेश शर्मा पर दबाव डालकर चंदे से जुड़े उनके सवालों को झुठलाने की कोशिश कर रही है.


‘भारत शांतिपूर्ण इस्तेमाल के लिए मिली परमाणु सामग्री से हथियार बना रहा है.’  

— नफीस जकारिया, पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता

नफीस जकारिया का यह बयान परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) के सदस्य देशों से भारत पर नजर रखने की अपील करते हुए आया. उन्होंने कहा कि 2008 में एनएसजी ने भारत को परमाणु सामग्री और तकनीक आयात की छूट शांतिपूर्ण इस्तेमाल के लिए दी थी, लेकिन वह इसे हथियार बनाने में इस्तेमाल कर रहा है. नफीस जकारिया ने भारत के पास ढाई हजार से ज्यादा परमाणु हथियार बनाने लायक संवर्द्धित यूरेनियम होने का दावा किया और इसे दक्षिण एशिया के लिए खतरा बताया. कश्मीर की अशांति पर वैश्विक समुदाय से ध्यान देने की अपील करते हुए नफीस जकारिया ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ घाटी में अराजकता फैला रहा है.