चीन ने भारतीय सेना पर सिक्किम में सीमा के उल्लंघन करने का आरोप लगाया है. उसने भारत से अपनी सेना को तुरंत पीछे हटाने की मांग की है. चीन ने यह भी कहा कि सीमा पर जारी इस विवाद के चलते ही उसे नाथूला दर्रे से कैलाश मानसरोवर जाने वाले 47 श्रद्धालुओं को रोकना पड़ा.

सोमवार को खबरें आई थीं कि चीनी सैनिकों ने सीमा का उल्लंघन करते हुए भारतीय सेना के दो बंकर तोड़ दिए हैं. लेकिन चीन के मुताबिक उल्टे भारतीय सैनिक उसके इलाके में घुस आए थे. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने पत्रकारों को बताया कि उन्होंने भारतीय पक्ष की इस कार्रवाई की शिकायत नई दिल्ली और बीजिंग दोनों जगह की है.

कांग का कहना था, ‘क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा करने को लेकर हम प्रतिबद्ध हैं. हम आशा करते हैं कि भारतीय पक्ष भी चीन के साथ इस दिशा में काम करेगा. हमें उम्मीद है कि भारत तुरंत अपने सैनिकों को चीनी क्षेत्र से वापस बुला लेगा.

उधर, इस टकराव को लेकर मंगलवार को गृह मंत्रालय में एक अहम बैठक हुई. गृह राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने इसमें अधिकारियों से हालात की जानकारी ली. हाल के समय में सीमा पर चीन द्वारा घुसपैठ की खबरें लगातार आती रही हैं.