कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनकी अमेरिका यात्रा को लेकर निशाना साधा है. बुधवार को ट्विटर पर उन्होंने लिखा, ‘भारत के पास एक कमजोर प्रधानमंत्री है.’ इस ट्वीट के साथ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिका यात्रा के जुड़ी दो खबरों को भी साझा किया है. इनमें एक खबर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ बैठक के दौरान एच-1बी वीजा पर चर्चा न करने, जबकि दूसरी अमेरिका द्वारा एक बयान में जम्मू-कश्मीर के आगे ‘भारत प्रशासित’ शब्द लिखे जाने से जुड़ी है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक भारतीय विदेश मंत्रालय अमेरिका द्वारा ‘भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर’ शब्द को लेकर पहले ही सफाई दे चुका है. पिछले हफ्ते कांग्रेस की आलोचना के जवाब में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा था कि भारत में सीमा पार आतंकवाद की चर्चा करते समय अमेरिका काफी पहले से इस शब्द का इस्तेमाल करता रहा है. अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बैठक से ठीक पहले पाकिस्तानी आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित करने वाले बयान में इस शब्द का इस्तेमाल किया था.

वहीं, भारतीय आईटी पेशेवरों और कंपनियों को उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ अपनी पहली बैठक में एच-1बी वीजा को लेकर जारी सख्ती पर चर्चा करेंगे. लेकिन, ऐसा नहीं हुआ. राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा अपनी ‘अमेरिका फर्स्ट’ नीति के तहत वीजा नियमों को सख्त करने से भारत के आईटी पेशेवरों और भारतीय कंपनियों को वीजा पाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.