जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को ग़िरफ्तार किया है. इनमें से एक की पहचान संदीप कुमार शर्मा उर्फ आदिल के रूप में हुई है. वह उत्तर प्रदेश के मुजफ्फराबाद का रहने वाला है. जबकि मुनीब शाह नाम का एक अन्य आतंकी दक्षिण कश्मीर के कुलगाम का निवासी है.

जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक मुनीर खान ने मीडिया को बताया, ‘दोनों ही आतंकी घाटी में कई सनसनीखेज वारदातों और दक्षिण कश्मीर में हुए आतंकी हमलों में शामिल रहे हैं. संदीप को अनंतनाग जिले के ब्रेंटी-बटपोरा गांव के उसी घर से ग़िरफ्तार किया गया जहां लश्कर के कमांडर बशीर लश्करी ने शरण ली थी. यहीं पर हुई मुठभेड़ में एक जुलाई को लश्करी मारा गया था. संदीप की गिरफ्तारी से शाह को पकड़ने में मदद मिली.’

पुलिस के मुताबिक संदीप जम्मू-कश्मीर में पिछले महीने हुए तीन आतंकी हमलों में शामिल रहा है. इनमें 16 जून काे अनंतनाग में हुए एक हमले में जम्मू-कश्मीर पुलिस के एसएचओ (थाना प्रभारी) फिरोज़ डार और पांच अन्य जवान मारे गए थे. जबकि 13 जून को अनंतनाग में ही एक सेवानिवृृत्त न्यायाधीश के घर के बाहर लगे पुलिस के शिविर पर हमला हुआ था. इस हमले में आतंकी पुलिस वालों की बंदूकें छीनकर भाग गए थे.

पुलिस के मुताबिक तीन जून को सेना के गश्ती दल पर हुए आतंकी हमले में भी संदीप शामिल रहा है. इसके अलावा लश्कर के आतंकियाें ने पिछले दिनों घाटी के कई एटीएम बूथों पर जो लूटपाट की थी उसमें भी संदीप ने मदद की थी. पेशेवर अपराधी संदीप 2012 में कश्मीर आया था. वह लंबे समय से लश्कर के साथ जुड़ा था. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक संदीप लश्कर के एक अन्य कमांडर शकूर अहमद से भी मिल चुका है.