पतंजलि आयुर्वेद के संस्थापक और योग गुरु रामदेव अब प्राइवेट सिक्योरिटी के कारोबार में भी उतर गए हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार रामदेव ने इसके लिए पराक्रम सुरक्षा प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कंपनी बनाई है. रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बालकृष्ण ने कहा है, ‘चाहे महिला हो या पुरुष, सुरक्षा सभी के लिए जरूरी है. हमारा लक्ष्य लोगों को अपनी और देश की सुरक्षा के लिए तैयार करना है और इसलिए हमने पराक्रम का गठन किया है.’

बालकृष्ण के मुताबिक ‘पराक्रम सुरक्षा’ में युवाओं को प्रशिक्षण देने के लिए सेना और पुलिस के रिटायर कर्मचारियों को नियुक्त किया गया है. पतंजलि आयुर्वेद के सीईओ का यह भी कहना था कि इस एजेंसी के तहत युवाओं के प्रशिक्षण का एक मकसद उनमें में सैन्य भावना पैदा करना भी है.

निजी सुरक्षा एजेंसियों का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है और रामदेव के इस क्षेत्र में उतरने के पीछे यही वजह बताई जा रही है. फेडरेशन ऑफ इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के मुताबिक भारत में प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी का कारोबार 40 फीसदी की दर से आगे बढ़ रहा है. इस समय देश में 50 लाख से ज्यादा प्रशिक्षित निजी सुरक्षाकर्मी विभिन्न संस्थानों की सुरक्षा में तैनात हैं.