रूस और अमेरिका के बीच पिछले साल से जारी राजनयिक विवाद एक बार फिर जोर पकड़ता दिखाई दे रहा है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने अमेरिका को चेतावनी दी है कि अगर अमेरिका में उसके दो मनोरंजन केंद्रों से पाबंदी को नहीं हटाई गई तो वह भी इसके जवाब में मास्को में कुछ अमेरिकी परिसरों पर पाबंदी लगा देगा. पिछले हफ्ते जर्मनी के हैम्बर्ग में जी-20 सम्मेलन के दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच इस मुद्दे पर चर्चा बेनतीजा रही थी.

रूस की यह चेतावनी ऐसे समय में आई है, जब सोमवार को रूसी उप विदेश मंत्री सर्जेई रयादकोव और अमेरिकी उप विदेश मंत्री टॉम शैनन की मुलाकात होने जा रही है. पिछले महीने यूक्रेन को लेकर ट्रंप प्रशासन के नए प्रतिबंधों के जवाब में रूस ने इस बैठक को रद्द कर दिया था. इस मुद्दे पर रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा है, ‘रूस को उम्मीद है कि टॉम शैनन अमेरिका में रूसी संपत्ति से पाबंदी हटाने सहित विवाद की स्थिति को खत्म करने के लिए सुझाव पेश करेंगे.’

रूस और अमेरिका का यह विवाद ओबामा प्रशासन के समय से चला आ रहा है. पिछले साल अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 35 रूसी राजनयिकों को देश से निकाल दिया था. इसके साथ रूस के दो मनोरजंन केंद्रों पर भी पाबंदी लगा दी थी. राष्ट्रपति ओबामा ने आरोप लगाया था कि इन केंद्रों को जासूसी के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. हालांकि, रूस ने उस समय संयम दिखाते हुए इसकी प्रतिक्रिया में कोई कार्रवाई नहीं की थी.