जीएसटी या वस्तु एवं सेवा कर उन लोगों के लिए अच्छी खबर लेकर आया है जो लंबे समय से कार खरीदने का मन बना रहे थे. एक जुलाई को जीएसटी के लागू होने के बाद घरेलू वाहनों पर लगने वाले टैक्स में कटौती और उनके निर्माण में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल के सस्ते होने से अधिकतर वाहन निर्माताओं ने अपनी सभी प्रमुख यात्री गाड़ियों की कीमतें खासी कम कर दी हैं.

हालांकि अलग-अलग राज्यों में टैक्स की दर अलग होने से कई कंपनियां इसकी शुरुआत में अपनी गाड़ियों की कीमतें तय नहीं कर पायी थीं. लेकिन अब देश के तकरीबन सभी वाहन निर्माताओं ने प्रत्येक राज्य के लिए अपनी प्रमुख गाड़ियों की नई कीमतें जारी कर दी हैं.

मारुति-सुजुकी

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति-सुजुकी ने जीएसटी के लागू होने के साथ ही अपनी गाड़ियों की नयी कीमतों से पर्दा हटा दिया था. मारुति ने अपनी हैचबैक ऑल्टो से लेकर कॉम्पैक क्रॉसओवर एस-क्रॉस तक की कीमतें औसतन तीन फीसदी कम करने का फैसला लिया है. अब आपको ऑल्टो के लिए लगभग 2,300 से 5,400, वैगन-आर के लिए 5,300 से 8,300, स्विफ्ट के लिए 6,700 से 10,700 और प्रीमियम हैचबैक बलेनो के लिए 6,600 से 13,000 रु कम खर्च करने होंगे. इसके अलावा कंपनी ने लोकप्रिय सेडान डिज़ायर की कीमतों में 8,100 से 15,100 रु तक की कमी की है. यूटिलिटी व्हीकल अर्टिगा के लिए यह आंकड़ा 21,800 रु तक का है जबकि सियाज़ के लिए 21,300, कॉम्पैक एसयूवी ब्रिज़ा के लिए 10,400 से लेकर 14,700 और कॉम्पैक क्रॉस ओवर एस-क्रॉस के लिए 17,700 से 21,300 रुपए तक का.

हुंडई

अगर आप मारुति के अलावा किसी दूसरी कंपनी की गाड़ी तलाश रहे हैं तो हुंडई एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है. देश की इस दूसरी प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी ने भी अपनी गाड़ियों की कीमतों में खासी कटौती की है. यदि आप दिल्ली के आसपास गाड़ी खरीदने का मन बना रहे हैं तो आपको अब इऑन के लिए करीब 1000, ग्रांड आई-10 के लिए 4,000 से 7,000, एक्सेंट के लिए 2,000 से 5,000 रुपए और कॉम्पैक एसयूवी क्रेटा के लिए 36,000 से 63,000 रुपए कम देने होंगे. वहीं मुंबई में इऑन की कीमत में 16,000 से 23,000 और ग्रांड आई-10 की कीमत में 32,000 से 39,000 रुपए की कमी हुई है. ह्युंडई की एसयूवी सैंटाफे की कीमतों में कंपनी की तरफ से सबसे ज्यादा कमी की गयी है जो कि 3.32 लाख से 3.72 लाख रुपए तक है.

होंडा और फोर्ड

जीएसटी लागू होने के बाद जापानी कंपनी होंडा ने भी भारत में अपनी गाड़ियों की कीमतों में आकर्षक कटौती की है. इससे हैचबैक ब्रियो की कीमत में 12,279 रु तक की कमी आई है. उधर, जैज के दाम 10,031 रु तक गिरे हैं तो अमेज़ की कीमत में 14,825 रु तक की कमी आई है. लोकप्रिय सेडान सिटी के लिए यह आंकड़ा 16,510 से 25,005 रु का है जबकि कॉम्पैक एसयूवी डब्ल्यूआरवी के दाम में 10,064 और एसयूवी सीआरवी पर 1,31,663 रुपए तक की कटौती की गई है.

अमेरिकी कंपनी फोर्ड ने देश में अपनी कारों की कीमत में औसतन 4.5 प्रतिशत की कमी की है. यह आंकड़ा दिल्ली के लिए 2,000 से लेकर 1.50 लाख और मुंबई के लिए 28,000 से लेकर 3 लाख रुपए तक बैठ रहा है.

टोयोटा और रेनो

जापान की चर्चित ऑटोमोबाइल कंपनी टोयोटा की गाड़ियों की कीमतों में भी खासी कमी देखने को मिली है. इटियॉस लिवा पर लगभग 43,000 से 51,000, इटियॉस क्रॉस पर 50,000 से 58,000, इनोवा क्रिस्टा पर 1.17 लाख से 1.19 लाख रुपए, सिडान कोरोला एल्टिस पर 1.66 लाख से 2.07 लाख, एसयूवी फॉर्च्यूनर पर 2.61 लाख से लेकर 3.26 लाख और लग्जरी कार लैंडक्रूजर पर 11 लाख रुपए कम किए गए हैं.

फ्रांस की कंपनी रेनो ने जीएसटी को सरकार की बड़ी उपलब्धि बताते हुए अपनी गाड़ियों की कीमतें औसतन सात प्रतिशत कम कर दी हैं. कंपनी की लोकप्रिय हैचबैक क्विड क्लाइंबर एएमटी के लिए देखें तो यह कटौती 5,200 से 29,500 रुपए तक है. वहीं कॉम्पैक एसयूवी डस्टर आरएक्सज़ेड एडब्ल्यूडी के लिए यह छूट 30,400 से लेकर 1,04,700 तक की रहेगी. अगर आप कंपनी का यूटिलिटी व्हीकल लॉजी स्टैप-वे आरएक्सज़ेड खरीदना चाहते हैं तो अब इस कार के लिए आपको पहले से 25,700 से लेकर 88,600 रुपए तक कम चुकाने होंगे.

निसैन और डैटसन

जीएसटी के बाद से जापानी कंपनी निसैन ने भारत में अपनी गाड़ियों की कीमतों में औसतन तीन फीसदी की कमी की है. इसके हिसाब से दिल्ली और मुंबई में माइक्रा एक्टिव के लिए औसतन क्रमश: 3,500 और 25,000 और सेडान सनी के लिए क्रमश: 8,000 और 50,000 रुपए कम देने होंगे.

निसैन के ही सहयोगी ब्रांड डैटसन ने भी अपनी गाड़ियों की कीमतों में दिल्ली और मुंबई के लिए अलग-अलग कटौती की है. इसके मुताबिक अब आपको दिल्ली और मुंबई में हैचबैक रेडी गो के लिए औसतन क्रमश: 2,000 और 30,000, गो के लिए 2,000 और 9000 और गो प्लस के लिए 2,500 रुपए से लेकर 33,000 रुपए कम चुकाने होंगे.

टाटा और महिंद्रा

देश की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टाटा की पैसेंजर व्हीकल बिजनेस यूनिट के अध्यक्ष मयंक पारिक ने अपनी गाड़ियों की नयी कीमतों का खुलासा करते हुए सरकार के जीएसटी लगाने के फैसले का स्वागत किया है. जीएसटी के बाद कंपनी ने अपनी हैचबैक टियागो से लेकर क्रॉसओवर हैक्सा की कीमतों में 3,300 से 2.17 लाख रुपए कम करने का ऐलान किया है.

जीएसटी के बाद महिंद्रा एंड महिंद्रा ने भी अपनी गाड़ियों की कीमतों में खासी कटौती की है. छोटी गाड़ियों पर इसका आंकड़ा 1.9 प्रतिशत है तो छोटे कमर्शियल वाहनों की कीमतों में 1.1 प्रतिशत कमी की गई है. हल्के और भारी वाणिज्यिक वाहनों के दाम में 0.9 की कटौती की गई है जबकि यूटिलिटी व्हीकल पर 6.9 प्रतिशत की. हालांकि कंपनी ने ट्रैक्टरों की कीमत में कोई बदलाव नहीं किया है.