मणिपुर विधानसभा में भाजपा का संख्या बल लगातार मजबूत होता जा रहा है. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार कांग्रेस के दो और विधायकों ने पार्टी का दामन थाम लिया है. राज्य के सूचना और जनसंपर्क मंत्री तोंगलाम विश्वजीत सिंह ने बताया कि कांग्रेस विधायक क्षेत्रीमायुम बीरेन सिंह और पायोनाम ब्रोजेन शनिवार को भाजपा में शामिल हो गए.

यानी अब 60 सदस्यों वाली मणिपुर विधानसभा में मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह की अध्यक्षता वाले भाजपानीत गठबंधन की सदस्य संख्या 40 हो गई है. इसमें भाजपा के 31, नगा पीपुल्स फ्रंट के चार, नेशनलिस्ट पीपुल्स पार्टी के चार और एक निर्दलीय विधायक शामिल हैं. उधर, कांग्रेस के विधायकों की संख्या 20 रह गई है. मार्च में चुनाव परिणाम आने के बाद से अब तक उसके आठ विधायक भाजपा में शामिल हो चुके हैं. विधानसभा चुनाव में 28 विधायकों के साथ कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी थी. लेकिन, क्षेत्रीय दलों और निर्दलीय विधायकों को जोड़ते हुए भाजपा सरकार बनाने में सफल हो गई थी.

वहीं, सत्तारूढ़ गठबंधन के सात संसदीय सचिवों के इस्तीफे के बारे में जनसंपर्क मंत्री तोंगलाम विश्वजीत सिंह कहा, ‘विधानसभा में विभिन्न समितियों के अध्यक्ष के रूप में काम करने के लिए इन संसदीय सचिवों ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री को सौंपा है.’ उनके मुताबिक सत्तारुढ़ गठबंधन के विधायकों के बीच किसी तरह की गलतफहमी नहीं है.