आज राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान हुआ है और फेसबुक-ट्विटर पर दोपहर से इससे जुड़ी खबरें ट्रेंड कर रही हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुरुआती लोगों में से थे जिन्होंने संसद भवन में मतदान किया और उनकी यह तस्वीर सोशल मीडिया पर कई लोगों ने शेयर की है.

इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की जीत तय मानी जा रहा है. उन्हें तकरीबन 65 फीसदी वोट मिलने की संभावना है. दूसरी तरफ विपक्ष की उम्मीदवार पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार के लिए यह हारी हुई लड़ाई ही है. इस बात का जिक्र करते हुए सोशल मीडिया पर कई लोगों ने टिप्पणियां की हैं. ट्विटर हैंडल‏ @theFirstHandle पर टिप्पणी आई है, ‘रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति पद की दौड़ में सबसे आगे हैं और मीरा कुमार जी राष्ट्रपति पद पाने की गलतफहमी में.’ इस चुनाव के बहाने यहां कांग्रेस और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर भी प्रतिक्रियाएं आई हैं. ट्विटर पर विपुल ने लिखा है, ‘दो बातें बिलकुल पक्की हैं. पहली यह कि मीरा कुमार राष्ट्रपति नहीं बनेंगी और दूसरी यह कि राहुल गांधी कभी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे.’

केंद्र में भाजपा की अगुवाई वाली सरकार और नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति पद का सबसे प्रबल दावेदार माना जाता रहा है. यही वजह है कि आज सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति चुनाव की चर्चा के बीच आडवाणी द्वारा मतदान करने वाली तस्वीर शेयर करते हुए कई मजाकियां टिप्पणियां आई हैं. अमृता सोनी का ऐसा ही ट्वीट है, ‘आडवाणी जी को इतना सब्र करना पड़ा कि उनके सब्र का फल ही सड़ गया!’

भारतीय जनता पार्टी ने एनडीए की तरफ से केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंंकैया नायडू को उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाया है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की इस घोषणा के बाद से नायडू भी सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहे हैं. यहां उन्हें लगातार बधाई संदेश मिल रहे हैं.

आज की इस राजनीतिक सरगर्मी पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

रजनीश कुमार | @rajneesh350

वैसे एक बात तय है कि अगर भाजपा के किसी सदस्य ने अपनी अंतरात्मा की आवाज पर मीरा कुमार को वोट दिया तो सबसे पहले आडवाणी को ही शक की निगाह से देखा जाएगा.

रवि भदोरिया | @ravibhadoria

उधर कांग्रेसी इसी बात से खुश हुए जा रहे हैं कि राष्ट्रपति चुनाव में हारने का ठीकरा इस बार राहुल बाबा पर नहीं फोड़ा जाएगा.

कार्टून कप्तान | facebook/irshad.kaptan

संदीप |‏ @sundeepgummadi

इस डिमोशन को सिर्फ वेंकैया नायडू समझ रहे होंगे... उन्हें कहा गया था कि उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी स्वीकार कर लीजिए नहीं तो मंत्रिमंडल के अगले फेरबदल में शहरी विकास मंत्रालय आपके हाथ से ले लिया जाएगा.

स्मृति रंजन सिंह | facebook/smritee.m

वेंकैया नायडू के उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनने के बाद अरुण जेटली को दो और मंत्रालयों का कार्यभार मिलने की एडवांस बधाई.