सुप्रीम कोर्ट ने निजता के मौलिक अधिकार पर सुनवाई करते हुए कहा है कि यह असीमित नहीं हो सकता. इस खबर को आज के करीब सभी प्रमुख अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर की अध्यक्षता वाली नौ सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने कहा कि सभी अधिकारों पर उचित प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं. इसके अलावा टीआर जेलियांग के नगालैंड के नए मुख्यमंत्री बनने की खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री शुरहोजेली लिजित्सू विश्वासमत प्रस्ताव के गिर जाने की आशंका के चलते विधानसभा के विशेष सत्र में नहीं पहुंचे थे.

प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 के चुनावी अभियान के दौरान फसल की लागत से 50 फीसदी अधिक एमएसपी देने का वादा नहीं किया था : राधा मोहन सिंह

मोदी सरकार अपने एक और चुनावी वादे से यू-टर्न लेती हुई नजर आ रही है. केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने लोकसभा में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 के चुनावी अभियान के दौरान किसानों को फसल की लागत से 50 फीसदी अधिक न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के रूप में देने का वादा नहीं किया था. द इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक उन्होंने ये बातें सदन में कृषि संकट पर छह घंटे लंबी बहस के दौरान कहीं. राधामोहन सिंह ने विपक्ष पर एमएसपी के मुद्दे पर लोगों को बरगलाने का आरोप लगया. उधर, सदन में बहस की शुरुआत करते हुए कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, ‘यह सरकार किसानों के मुद्दे पर गंभीर नहीं है.’ उनका यह भी कहना था कि प्रधानमंत्री मोदी किसी वैश्विक घटना के वक्त तो तुरंत ही ट्वीट करते हैं लेकिन, मंदसौर में किसानों की हत्या के वक्त उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया.

उत्तर प्रदेश : योगी सरकार ने राज्य में शराबबंदी से इनकार किया

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में शराबबंदी से इनकार कर दिया है. जनसत्ता में छपी खबर के मुताबिक सरकार में आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने बुधवार को विधानसभा में एक सवाल के जवाब में कहा कि विभाग के राजस्व का इस्तेमाल जनकल्याण और विकास की अन्य योजनाओं में किया जाता है. इसके आगे उन्होंने कहा, ‘शराबबंदी के बाद सूबे में इसकी अवैध बिक्री को बढ़ावा मिलेगा. इससे लोगों के स्वास्थ्य पर खराब असर पड़ेगा.’ जय प्रताप सिंह का मानना था कि व्यापक राजस्व और जनहित को देखते हुए राज्य में शराबबंदी लागू किया जाना उचित नहीं लगता.

किसान आंदोलन की आंच ओडिशा तक पहुंची

अपनी फसल की सही कीमत न मिलने की वजह से नाराज किसानों का गुस्सा ओडिशा में भी सड़कों पर देखने को मिला. द एशियन एज में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक राज्य के जाजपुर में नवनिर्माण कृषक संगठन के बैनर तले किसानों ने दूध, सब्जी, दाल सहित खानी-पीने की कई चीजों को सड़कों पर फेंक दिया. किसानों ने बताया कि उन्होंने फसल की उचित कीमत के लिए जिला प्रशासन से मामले में दखल देने के लिए कहा था लेकिन, अभी तक इसका कोई नतीजा नहीं निकला है. विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के नेता अक्षय कुमार ने बताया कि वे कर्जमाफी के अलावा फसल की उचित कीमत और पेंशन की मांग कर रहे हैं.

अमेरिका ने पाकिस्तान को आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह बताया

अमेरिका ने अपनी एक रिपोर्ट में पाकिस्तान को आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह बताया है. हिन्दुस्तान ने इस खबर को पहले पन्ने पर जगह दी है. अखबार के मुताबिक विदेश विभाग की इस रिपोर्ट में कहा गया कि लश्कर-ए तैयबा और जैश-ए मोहम्मद जैसे आतंकी गुट पाकिस्तान से अपनी गतिविधियां चला रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक ये संगठन आतंकियों को प्रशिक्षित करने के साथ-साथ पैसे भी जुटा रहे हैं. अमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि वह केवल तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान जैसे उन आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई करता है जो उसके यहां हमले करते हैं.

आज का कार्टून

तेलंगाना में स्कूली बच्चों के बैग के वजन की सीमा तय किए जाने पर द हिंदू में प्रकाशित आज का कार्टून :