देश के सबसे बड़े खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न के लिए पैरालंपियन देवेंद्र झाझरिया के नाम की सिफारिश की गई है. देवेंद्र झाझरिया ने पिछले साल रियो पैरालंपिक में भाला फेंक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता था. एनडीटीवी के मुताबिक सेवानिवृत्त जज सीके ठक्कर की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने देवेंद्र झाझरिया साथ भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह का नाम भी सुझाया है. हालांकि, अब खेल मंत्रालय को तय करना है कि यह पुरस्कार दोनों को संयुक्त रूप से दिया जाएगा या किसी एक को.

राजस्थान के चुरू के रहने वाले देवेंद्र झाझरिया पैरालंपिक खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय हैं. रियो ओलंपिक से पहले उन्होंने 2004 में एथेंस के पैरालंपिक खेलों में एक स्वर्ण पदक जीता था. इन दोनों मौकों पर उन्होंने नया वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया था. फिलहाल, जेवेलिन थ्रो (भाला फेंक) की वैश्विक रैंकिंग में वे तीसरे पायदान पर हैं. वहीं, सरदार सिंह के नाम सबसे कम उम्र में भारतीय हॉकी टीम की कप्तानी करने और कॉमनवेल्थ खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने जैसी उपलब्धियां दर्ज हैं.

चयन समिति ने गुरुवार को अर्जुन पुरस्कारों के लिए 17 खिलाड़ियों के नामों की सिफारिश भी की है. इनमें क्रिकेट खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा और हरमनप्रीत कौर, पैरालंपिक पदक विजेता मरियप्पन थंगावेलु और वरुण भाटी के नाम शामिल हैं. चेतेश्वर पुजारा ने पिछले साल सबसे ज्यादा 1350 रन बनाए थे. वहीं, हरमनप्रीत कौर ने पिछले महीने महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 171 रनों की नाबाद पारी खेली थी. इसके अलावा पिछले साल रियो पैरालंपिक की ऊंची कूद प्रतियोगिता में मरियप्पन थंगावेलु ने स्वर्ण पदक, जबकि वरुण भाटी ने रजत पदक जीता था.