‘यह कहना महज राजनीतिक प्रचार है कि देश में अल्पसंख्यक असुरक्षित हैं.’

— वेंकैया नायडू, निर्वाचित उपराष्ट्रपति और पूर्व केंद्रीय मंत्री

वेंकैया नायडू ने यह बात उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के बयान के जवाब में उनका नाम लिए बगैर कही. उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा था कि मुस्लिमों में बेचैनी है और असुरक्षा की भावना घर कर रही है. इस पर वेंकैया नायडू ने कहा, ‘दुनिया के मुकाबले भारत में अल्पसंख्यक सबसे ज्यादा सुरक्षित हैं और उन्हें उनका हक हासिल है.’ देश में असहनशीलता बढ़ने की बातों से असहमति जताते हुए उन्होंने कहा कि भारत में लोकतंत्र इसी वजह से इतना सफल है, क्योंकि यहां के लोगों में सहनशीलता है. किसी एक समुदाय पर बात करने से बचने की सलाह देते हुए निर्वाचित उपराष्ट्रपति का कहना था कि किसी का तुष्टीकरण न करना ही सबके साथ न्याय करना है.

‘अगर विरोधियों को आलोचना करने की छूट नहीं है तो लोकतंत्र निरंकुशता में बदल सकता है.’

— हामिद अंसारी, उपराष्ट्रपति

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने यह बात अपने विदाई भाषण में पूर्व उपराष्ट्रपति राधाकृष्णन का उल्लेख करते हुए कही. सरकार की नीतियों की स्वतंत्र और भयमुक्त आलोचना को जरूरी बताते हुए उन्होंने कहा कि सांसदों को ये सारे अधिकार हैं, लेकिन उन्हें इसके जरिए जानबूझकर संसदीय कामकाज में बाधा नहीं डालनी चाहिए. अल्पसंख्यकों के हितों की चर्चा करते हुए उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा, ‘अल्पसंख्यकों को मिलने वाली सुरक्षा से ही किसी लोकतंत्र की महानता को आंका जाता है. लेकिन, इसके साथ अल्पसंख्यकों की भी जिम्मेदारी होती है.’ उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का गुरुवार को पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा हो गया. अब 11 अगस्त को वेंकैया नायडू उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे.


‘जिन्हें जेल जाना था वे भाजपा में चले गए, यह कैसा रामराज्य है?’

— अखिलेश यादव, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री

अखिलेश यादव का यह बयान सपा छोड़कर भाजपा में जाने वाले विधान परिषद सदस्यों (एमएलसी) पर तंज करते हुए आया. पूर्व सपा एमएलसी यशवंत सिंह और बुक्कल नवाब का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘अब तो ये दोनों लोग पाक साफ और सही हो गए होंगे.’ अखिलेश यादव ने आगे कहा, ‘नरेंद्र मोदी और दूसरे नेता सपा पर पुलिस थानों को चलाने का आरोप लगाते थे, लेकिन भाजपा सरकार तो पुलिस को अपने विरोधियों को परेशान करने के लिए इस्तेमाल कर रही है.’ विधानसभा में कथित विस्फोटक मिलने की घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री का कहना था कि योगी सरकार ने फर्नीचर साफ करने वाले पाउडर को पीईटीएन बता दिया, ताकि पुराने विधायकों को विधानसभा में आने से रोका जा सके.


‘कांग्रेसियों को हकीकत देखनी चाहिए क्योंकि हमें कई गंभीर झटके लगे हैं.’

— मणिशंकर अय्यर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

मणिशंकर अय्यर का यह बयान अपनी पार्टी को आत्ममंथन करने की सलाह देते हुए आया. जयराम रमेश के बयान का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा, ‘रमेश ने जो भी कहा है उसमें सबसे खास यह है कि कांग्रेस को नए विचारों और काम करने के नए तौर-तरीके की जरूरत है.’ मणिशंकर अय्यर ने आगे कहा कि जयराम रमेश एक सच्चे कांग्रेसी हैं, इसलिए पार्टी को उनके बयान को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा, ‘हम (कांग्रेस) एक संवैधानिक पार्टी हैं, अगर हम विभिन्न मतों और विचारों पर गौर नहीं करेंगे तो आगे नहीं बढ़ पाएंगे.’ सोमवार को जयराम रमेश ने कहा था कि कांग्रेस इस समय अस्तित्व के संकट का सामना कर रही है.


‘पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को खड़ा करने के लिए अभी धैर्य रखना होगा.’

— निजाम सेठी, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के नए अध्यक्ष

निजाम सेठी का यह बयान वर्ल्ड-11 सीरीज के बाद पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट शुरू होने की उम्मीद जताते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘वर्ल्ड-11 टीम के साथ तीन टी-20 मैचों की सीरीज के बाद अगले कुछ महीनों में अच्छी खबर आने की उम्मीद है.’ श्रीलंकाई टीम को पाकिस्तान बुलाने के सवाल पर निजाम सेठी ने कहा कि वर्ल्ड-11 सीरीज के बाद वे इस बारे में श्रीलंका के क्रिकेट बोर्ड से बात करें और उसका जवाब हासिल करने की कोशिश करेंगे. 2015 में जिम्बॉम्बे की टीम का पाकिस्तान दौरा छोड़ दें तो 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर हमले के बाद कोई भी क्रिकेट टीम मैच खेलने के लिए वहां नहीं गई है.