‘दिल्ली सरकार में निजी स्कूलों की लूट पर मौन नहीं रहेगी.’

— अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह बात छात्रों की अतिरिक्त फीस न लौटाने पर दिल्ली के निजी स्कूलों का अधिग्रहण करने की चेतावनी देते हुए कही. उन्होंने कहा कि कुछ स्कूलों ने जस्टिस अनिल देव सिंह समिति की सिफारिशें मानकर अतिरिक्त फीस लौटा दी है लेकिन बाकी इसे नहीं मान रहे. उन्होंने आगे कहा कि उनकी सरकार निजी स्कूलों के खिलाफ नहीं है, लेकिन चाहती है कि बाकी 449 स्कूल भी छात्रों को अतिरिक्त फीस लौटा दें. निजी स्कूलों द्वारा छठे वेतन आयोग के नाम पर फीस बढ़ाने की जांच के लिए दिल्ली हाई कोर्ट ने जस्टिस अनिल देव सिंह समिति बनाई थी. इसने ऐसे 544 निजी स्कूलों को चिन्हित किया था और छात्रों को अतिरिक्त फीस लौटाने की सिफारिश की थी.

‘भाजपा इकलौती पार्टी है जो केवल सरकार बनाने के लिए नहीं बल्कि देश बनाने के लिए राजनीति करती है.’

— राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृहमंत्री

गृहमंत्री राजनाथ सिंह का यह बयान लखनऊ में ‘संकल्प से सिद्धि-न्यू इंडिया मूवमेंट’ कार्यक्रम में आया. उन्होंने यहां मौजूद सभी लोगों को गंदगी, गरीबी, भ्रष्टाचार, सांप्रदायिकता और जातिवाद से मुक्त भारत बनाने की शपथ दिलाई. स्वच्छ भारत मिशन की चर्चा करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि महात्मा गांधी ने स्वच्छता को अभियान बनाया था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे जनांदोलन बना दिया है. गृह मंत्री ने आगे कहा कि आजादी के 75 साल पूरे होने पर यानी 2022 तक देश आतंकवाद और नक्सलवाद जैसी समस्याओं से मुक्त हो जाएगा. केंद्रीय मंत्री ने 2022 तक कश्मीर समस्या सुलझ जाने की भी उम्मीद जताई.


‘पर्रिकर चुनाव हारे तो केंद्र में दोबारा मंत्री बन जाएंगे, देश का रक्षा मंत्रालय क्या कोई खेल है?’

— संजय राउत, शिव सेना सांसद

सांसद संजय राउत का यह बयान गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के एक वीडियो पर तंज करते हुए आया. पणजी उपचुनाव से जुड़े इस वीडियो में मनोहर पर्रिकर यह कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर वे चुनाव हारे तो केंद्र में लौट जाएंगे. इस पर संजय राउत ने कहा, ‘उन्हें (मनोहर पर्रिकर) डर सता रहा है कि वे चुनाव हार जाएंगे.’ उन्होंने आगे कहा कि लोकतंत्र में अगर जनता स्वीकार नहीं करती है तो आपको अपने घर बैठना चाहिए. इससे पहले शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में इसी वीडियो की चर्चा करते हुए मनोहर पर्रिकर को रक्षा मंत्री के रूप में विफल बताया था.


‘अमित शाह कह रहे हैं तो सही ही कह रहे होंगे, विपक्ष को विदेश यात्रा पर या फिर नेपाल चले जाना चाहिए.’

— अखिलेश यादव, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री

अखिलेश यादव का यह बयान भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह द्वारा अगले आम चुनाव में 350 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य तय करने से जुड़े सवाल पर आया. केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के कथनी-करनी में अंतर को जनता समझ चुकी है. थानों में जन्माष्टमी मनाने पर रोक के आरोप पर अखिलेश यादव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ को यह बताना चाहिए कि पिछले 100 साल में कब थानों में जन्माष्टमी नहीं मनाई गई. सपा अध्यक्ष ने आगे कहा कि सड़कों पर कई त्योहार मनाए जाते हैं तो नमाज पर ही सवाल क्यों. इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि जब सड़कों पर नमाज नहीं रोक सकते तो उन्हें थानों में जन्माष्टमी रोकने का हक नहीं है.


‘उत्तर कोरिया के किसी भी हमले का जवाब देने के लिए अमेरिका अपनी सेना और सहयोगियों के साथ तैयार है.’

— रेक्स टिलरसन, अमेरिका के विदेश मंत्री

रेक्स टिलरसन का यह बयान उत्तर कोरिया द्वारा अमेरिका पर मिसाइल से हमले की धमकी की पृष्ठभूमि में आया. उन्होंने कहा, ‘अगर उत्तर कोरिया जापान, अमेरिका, गुआम या दक्षिण कोरिया में से किसी को निशाना बनाकर मिसाइल छोड़ता है तो उसे तुरंत जवाब दिया जाएगा.’ रेक्स टिलरसन ने आगे कहा कि युद्ध अमेरिका का पसंदीदा रास्ता नहीं है, यह बात भी स्पष्ट होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया से निपटने के लिए कूटनीतिक प्रयासों को प्राथमिकता दे रहा है. रेक्स टिलरसन के मुताबिक अमेरिका उत्तर कोरिया को कूटनीतिक वार्ता में शामिल करने का भी प्रयास कर रहा है.