जम्मू-कश्मीर में पुलवामा की जिला पुलिस लाइन (डीपीएल) में शनिवार को हुए आतंकी हमले में सुरक्षा बलों के आठ जवान शहीद हो गए. इनमें जम्मू-कश्मीर पुलिस के तीन सिपाही और सीआरपीएफ (केंद्रीय आरक्षित पुलिस बल) के पांच जवान शामिल हैं. सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी भी मारे गए.

द टाइम्स ऑफ इंडिया ने समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से बताया है कि हमला शनिवार तड़के हुआ. गोलियां चलाते हुए आतंकी सीधे पुलिस लाइन में जा घुसे. इसी दौरान एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक डीपीएल के पास ही सीआरपीएफ का शिविर है. आतंकियों ने उसे भी निशाना बनाया. इससे सीआरपीएफ के आठ जवान घायल हो गए. इनमें से दो ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक दो से तीन आतंकी पुलिस लाइन में घुसे हुए हैं. उन्हें ढेर करने के लिए ज़वाबी कार्रवाई की जा रही है. पूरे इलाके को घेर लिया गया है. मौके पर अतिरिक्त फोर्स भी पहुंच गई है.

उधर ग्रेटर कश्मीर के मुताबिक इस हमले की ज़िम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. इस संगठन के हसन शाह नाम के प्रवक्ता ने मीडिया में बयान ज़ारी कर कहा, ‘हमारे बहादुर लड़ाकों ने सीआरपीएफ के शिविर और जिला पुलिस लाइन में घुसकर सशस्त्र बलों के जवानों को मौत सजा दी है.’