घरों में खाना पकाने में इस्तेमाल होने वाली गैस (एलपीजी) की कीमत सात रुपये बढ़ गई है. देश की सबसे बड़ी सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के अनुसार शुक्रवार की बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत 487.18 रुपये हो गई है. यह पहले 479.77 रुपये थी.

तेल कंपनियों ने यह बढ़ोतरी एलपीजी सिलेंडर को सब्सिडी मुक्त करने की सरकार की नीति के तहत की है. 31 जुलाई को लोकसभा में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था कि अगले साल मार्च तक एलपीजी सब्सिडी को समाप्त करने के लिए सभी सरकारी तेल कंपनियों को हर महीने चार रुपये कीमत बढ़ाने का निर्देश दिया गया है. अभी उपभोक्ताओं को साल में 12 एलपीजी सिलेंडरों पर सब्सिडी मिलती है. तेल कंपनियों ने अगस्त में एलपीजी सिलेंडर की कीमत 2.31 रुपये बढ़ाई थी. सूत्रों के मुताबिक पिछले महीने की कमी को पूरा करने के लिए कंपनियों ने इस बार सात रुपये की बढ़ोतरी की है.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक सरकार ने सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत बढ़ोतरी की यह नीति पिछले साल जुलाई से ही लागू कर रखी है. इससे अब तक प्रति सिलेंडर कीमत में 68 रुपये का इजाफा हो चुका है. सरकार ने इसी नीति को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत मिलने वाले केरोसीन तेल पर लागू कर रखा है. पिछले साल एक जुलाई से प्रत्येक 15 दिन पर इसकी कीमत 25 पैसे बढ़ाई जा रही है. मुंबई में पिछले साल एक जुलाई को केरोसीन की कीमत 15.02 रुपये थी, जो इस बढ़ोतरी के साथ अब 22.27 रुपये हो गई है. तेल कंपनियों ने शुक्रवार को विमान ईंधन की कीमत में भी चार फीसदी का इजाफा किया है