‘प्रशिक्षित अध्यापक बनने के लिए ऑनलाइन पाठ्यक्रम में दाखिला लें, नहीं तो नौकरी चली जाएगी.’

— प्रकाश जावड़ेकर, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का यह बयान अप्रशिक्षित स्कूली शिक्षकों को चेतावनी देते हुए आया. उन्होंने कहा कि सभी अप्रशिक्षित अध्यापकों को 15 सितंबर तक ऑनलाइन डिग्री और डिप्लोमा देने के लिए बने पोर्टल ‘स्वयं’ पर अपना पंजीकरण करा लेना चाहिए. प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा कि अगर कोई अप्रशिक्षित अध्यापक 2019 तक जरूरी डिप्लोमा नहीं हासिल कर पाएगा तो उसकी नौकरी चली जाएगी.शिक्षा का अधिकार कानून के तहत शिक्षण कार्य के लिए प्राथमिक शिक्षा में डिप्लोमा अनिवार्य है. लेकिन, देश में लगभग 11.09 लाख अध्यापक बगैर किसी योग्यता के बच्चों को पढ़ाने के काम में लगे हैं.

‘कोई भी मुझे गंगा से अलग नहीं कर सकता, गंगा अभी भी मेरे साथ हैं.’

— उमा भारती, केंद्रीय पेयजल और स्वच्छता मंत्री

केंद्रीय मंत्री उमा भारती का यह बयान अगले महीने गंगासागर से हरिद्वार तक पदयात्रा शुरू करने की घोषणा करते हुए आया. गंगा सफाई और केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय छिनने से नाराज उमा भारती ने आगे कहा, ‘अगर मैं विफल थी तो नितिन गडकरी को यह मंत्रालय कैसे मिल सकता है, क्योंकि मैं तो नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर उनके साथ सलाह करके काम कर रही थी.’ अपनी पदयात्रा के फैसले पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने एक साल पहले ही इसकी जानकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को दे दी थी, लेकिन अमित शाह ने उत्तर प्रदेश चुनाव के बाद इसे शुरू करने के लिए कहा था. उनके मुताबिक अकेले सरकार गंगा को स्वच्छ नहीं बना सकती, इसमें लोगों का साथ जरूरी है.


‘मैं बॉस (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) को अपनी उपलब्धियों की जानकारी दे पाने में चूक गया.’

— राजीव प्रताप रूड़ी, पूर्व केंद्रीय मंत्री

पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी का यह बयान कौशल विकास मंत्रालय से उनका इस्तीफा लिए जाने की वजह को लेकर आया. उन्होंने कहा, ‘मैंने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की थी...यहां तक कि मेरी जिम्मेदारी संभालने वाले दूसरे व्यक्ति को भी इस क्षेत्र में दिखने लायक बदलाव लाने में वक्त लगेगा.’ राजीव प्रताप रूडी ने आगे कहा कि कौशल विकास मंत्रालय मिलने पर उन्होंने इसकी जो रूपरेखा बनाई थी, उसके तहत आज देशभर में स्थापित कौशल प्रशिक्षण केंद्रों में युवाओं को प्रशिक्षण मिल रहा है. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, ‘अगर बॉस को लगता है कि मैं फेल हो गया हूं तो मैं अपने बॉस से सर्टिफिकेट नहीं ले सकता. बॉस हमेशा सही होता है.’ रविवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल के बाद पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को कौशल विकास मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है.


‘रोहिंग्या मुसलमानों को वापस जाना ही होगा.’

— जितेंद्र सिंह, राज्यमंत्री, प्रधानमंत्री कार्यालय

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह का यह बयान भारत में अवैध रूप से रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को वापस भेजने के सवाल पर आया. उन्होंने कहा, ‘गृह मंत्रालय ने बार-बार दोहराया है कि अवैध रूप से भारत आए रोहिंग्या मुस्लिमों को लेकर भारत की स्थिति बहुत स्पष्ट है.’ जितेंद्र सिंह ने आगे कहा कि जम्मू-कश्मीर में अवैध रूप से बसने वाले रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस जाना होगा और इस मामले में उन्हें कोई गफलत नहीं है. इससे पहले गृह राज्यमंत्री किरण रिजीजू ने कहा था कि भारत रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस भेजने के लिए ताकत का इस्तेमाल नहीं करेगा, बल्कि इसके लिए कानूनी प्रक्रिया अपनाई जाएगी.


‘मेरे रिकॉर्ड अभी 15-20 साल तक टिके रहेंगे.’

— उसेन बोल्ट, दुनिया के सबसे तेज धावक

दुनिया के सबसे तेज धावक उसेन बोल्ट का यह बयान अपने दौर को याद करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘योहान ब्लैक, जस्टिन गेटलिन और असाफा पॉवेल के साथ हमारा दौर एथलीट के लिए सबसे उम्दा दौर था.’ उसेन बोल्ड के मुताबिक अगर किसी रिकॉर्ड को टूटना होता तो इसी दौर में टूट जाता, इसलिए अब इन्हें टूटने में 15-20 साल का समय लगेगा. उसैन बोल्ट ने पिछले महीने लंदन में विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लेने के बाद प्रतिस्पर्धाओं को अलविदा कह दिया है. 100 मीटर की दौड़ 9.58 सेकेंड में, जबकि 200 मीटर की दौड़ 19.19 सेकेंड में पूरा करने का विश्व रिकॉर्ड उसेन बोल्ट के नाम है. इसके अलावा लगातार तीन ओलंपिक में 100 मीटर और 200 मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक जीतने का रिकॉर्ड भी उनके नाम ही है.