तुर्की के सुरक्षाबलों ने बड़ी संख्या में कुर्द आतंकियों को मार गिराने का दावा किया है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार शनिवार को तुर्की की सेना ने बताया कि बीते दो हफ्ते के दौरान चलाए गए अभियानों में कुल 99 कुर्द आतंकी मारे गए, जिनमें उनका एक सरगना भी शामिल था.

ये सभी आतंकी प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके) से जुड़े थे. सुरक्षाबलों ने इन अभियानों के दौरान दक्षिण-पूर्वी राज्यों सरनाक और हक्कारी में आतंकियों के उन ठिकानों और गुफाओं को निशाना बनाया, जिन्हें वे शरण लेने और भंडारण के लिए इस्तेमाल करते थे. 24 अगस्त से सात सितंबर के बीच की गई इस कार्रवाई में सेना ने आतंकियों के ठिकानों से 420 किग्रा अमोनियम नाइट्रेट के साथ बम, बंदूक और राइफल जैसे हथियार भी जब्त किए हैं. अमोनियम नाइट्रेट का इस्तेमाल विस्फोटक बनाने में किया जाता है. कुर्द आतंकियों ने तुर्की और ईरान सीमा पर पहाड़ों के दोनों तरफ अपने ठिकाने बना रखे हैं, जहां तुर्की के सुरक्षाबल उन्हें अक्सर निशाना बनाते हैं.

प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी को तुर्की के अलावा अमेरिका और तुर्की भी आतंकी संगठन मानते हैं. दक्षिणपूर्वी तुर्की की स्वायत्तता की मांग को लेकर पीकेके 1984 से विद्रोही गतिविधियां चला रहा है.