जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के दो आतंकी मारे गए हैं. सोमवार तड़के जिले के खुदवानी इलाके में हुई इस मुठभेड़ के दौरान एक आतंकी ग़िरफ्तार भी किया गया है.

इंडिया टुडे के मुताबिक ग़िरफ्तार किया गया आतंकी हिज्बुल का ज़मीनी कार्यकर्ता (ओवर ग्राउंट वर्कर- ओडब्ल्यूजी) है. इसका नाम आरीफ सोफी बताया गया है. खबर के मुताबिक मारे गए आतंकियों की पहचान दाऊद अहमद अली और शैयार अहमद वानी के रूप में हुई है. जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में स्थित सेना की उत्तरी कमान के मुख्यालय की ओर से इसकी पुष्टि की गई है. यह अभियान अब ख़त्म हो चुका है.

वहीं जम्मू-कश्मीर पुलिस के प्रवक्ता के हवाले से हिंदुस्तान टाइम्स ने बताया कि इलाके में आतंकियों के छिपे होने की पुख़्ता सूचना मिलने के बाद संयुक्त अभियान चलाया गया था. सेना, सीआरपीएफ (केंद्रीय आरक्षित पुलिस बल) और पुलिस की टीमों ने तड़के क़रीब तीन बजे खुदवानी इलाके को घेर लिया था. आतंकियों के खात्मे के बाद मुठभेड़ स्थल से एके-47 और इंसास राइफलें भी बदामद हुई हैं.

ग़ौरतलब है कि रविवार को शोपियां में चलाए गए इसी तरह के अभियान के बाद सुरक्षा बलों ने हिज्बुल के दो आतंकियों को मार गिराया था. जबकि एक अन्य को जिंदा पकड़ लिया था. ख़बराें के मुताबिक कई साल बाद जम्मू-कश्मीर में किसी आतंकी को ज़िंदा पकड़ने में सुरक्षा बलों को कामयाबी मिली है.