हरियाणा के रायन इंटरनेशनल स्कूल में रहस्मय परिस्थितियों में मारे गए छात्र प्रद्युम्न की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. इसके अनुसार हत्या के पहले बच्चे का यौन शोषण नहीं हुआ था. रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि बच्चे के मौत गले की नस कटने से हुई जिसके चलते वह चीख नहीं पाया. पोस्टमॉर्टम करने वाले एक डॉक्टर दीपक माथुर के अनुसार प्रद्युम्न के गले पर चाकू के दो निशान पाए गए हैं. इस बीच गु्रुग्राम के पुलिस कमिश्नर ने आज स्कूल का दौरा करने के बाद बताया कि फॉरेंसिक टीम ने मामले में कई अहम सुराग जुटाए हैं. उन्होंने दावा किया है कि पुलिस के पास इस मामले में पर्याप्त सबूत आ गए हैं.

उधर इस मामले में स्कूल के क्षेत्रीय प्रमुख और मानव संसाधन प्रमुख को गिरफ्तार करने के बाद अदालत में पेश किया गया है. अदालत ने दोनों अधिकारियों को दो दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है. यह गिरफ्तारी विशेष जांच दल (एसआईटी) द्वारा स्कूल में पाई गई कई खामियों के बाद हुई है. एसआईटी के मुताबिक स्कूल में सीसीटीवी लगाने में गड़बड़ी के अलावा ड्राइवर और कंडक्टर के लिए अलग से टॉयलेट न होने की बात सामने आई है. जांच में स्कूल की बाउंड्री वॉल के टूटे होने और कर्मचारियों का पुलिस वेरिफिकेशन न होने की खामी भी पाई गई है.