‘एक्सक्लूसिव’ खबर के चक्कर में अपने बच्चे को खो चुके एक पिता के साथ रिपब्लिक टीवी के स्टाफ की हरकत चौतरफा निंदा का विषय बन गई है. यह घटना तब हुई जब रिपब्लिक का प्रतिद्वंदी चैनल टाइम्स नाउ, गुरुग्राम के रायन इंटरनेशल स्कूल में सात साल के प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के बारे में उसके पिता से बात कर रहा था. इस घटना को लेकर वायरल हुए वीडियो में जो दिख रहा है उससे लगता है कि रिपब्लिक की स्टाफ को उनका पहले किसी और चैनल से बात करना नागवार गुजरा सो उसने चलते इंटरव्यू में उनकी शर्ट पर लगा माइक छीनने की कोशिश की. टाइम्स नाउ की पत्रकार ने इसका विरोध किया और इसे लेकर दोनों में गुत्थमगुत्था हो गई.

Play

इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर काफी हंगामा है. लोग रिपब्लिक टीवी की आलोचना कर रहे हैं. तहसीन पूनावाला लिखते हैं, ‘अर्णब, अगली बार आप उपदेश दें तो काली ड्रेस वाली अपनी इस स्टाफ पर भी गौर कर लें जो शोक में डूबे एक पिता के साथ किस तरह का बर्ताव कर रही है.’ चर्चित पत्रकार अर्णब गोस्वामी इस चैनल के मुखिया हैं. एक अन्य यूजर विजय अक्षित लिखते हैं कि जिसके सात साल के बेटे की हत्या हो गई हो, उसका कॉलर पकड़ कर लाइव कैमरे के सामने से माइक खींच लेना बताता है कि चैनलों के पास शर्म नाम की चीज नहीं बची है. एक दूसरे यूजर ने लिखा है कि ये न्यूज चैनल नहीं, नौटंकी चैनल हैं.

यह पहली बार नहीं है जब यह चैनल विवादों में घिरा है. इसी साल मई में न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोशिएशन (एनबीए) ने आरोप लगाया था कि दर्शकों की संख्या बढ़ाने के लिए रिपब्लिक अनैतिक तरीके अपना रहा है. संस्था ने इस संबंध में ट्राइ को भी लिखा था.