ब्रिटेन ने दाऊद इब्राहिम को बड़ा झटका दिया है. उसने अपने यहां स्थित इस माफिया सरगना की संपत्तियां फ्रीज कर दी हैं. दाऊद मुंबई में हुए 1993 के श्रृंखलाबद्ध बम धमाकों का आरोपित है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवंबर-2015 में अपनी ब्रिटेन यात्रा के दौरान वहां की तत्कालीन डेविड कैमरन सरकार को उसके खिलाफ सबूत मुहैया कराए थे. उन्होंने कैमरन सरकार से उसकी संपत्तियां जब्त करने का भी आग्रह किया था. ख़बरों के मुताबिक ब्रिटिश सरकार ने ताजा कार्रवाई इसी आग्रह पर की है.

दाऊद को दुनिया के सबसे धनी गैंगस्टरों में शुमार किया जाता है. फोर्ब्स मैगजीन ने तो उसे 2015 में दुनियाभर में अब तक का सबसे अमीर अपराधी माना था. उस वक्त उसकी संपत्ति 6.7 अरब डॉलर के आसपास बताई गई थी. इसमें ब्रिटेन में मौजूद 45 करोड़ डॉलर की संपत्ति भी शामिल है. दाऊद इब्राहिम का आपराधिक कारोबार यूरोप, अफ्रीका, दक्षिण एशिया के 12 से अधिक देशों में फैला है.