अपने फरमानों से अक्सर सुर्खियां बटोरने वाले मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री विजय शाह ने फिर यही किया है. उन्होंने सतना जिले के सभी स्कूलों के लिए आदेश दिया है कि उपस्थिति दर्ज कराते समय बच्चों से ‘यस सर’, ‘यस मैम’ के बजाय ‘जय हिंद’ कहलवाया जाए. ख़बरों के मुताबिक जिले में यह व्यवस्था एक अक्टूबर से लागू होगी.

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए शाह ने इसकी पुष्टि की. उन्होंने कहा, ‘सतना में अभी प्रायोगिक तौर पर यह व्यवस्था लागू कर रहे हैं. जहां तक जिले के निजी स्कूलों का सवाल है तो उनके लिए अभी यह सिर्फ एक सुझाव है. उम्मीद है कि वे इसे अपनाएंगे क्योंकि यह मसला देशभक्ति से जुड़ा है.’ शाह के मुताबिक, ‘सतना का प्रयोग अगर सफल रहा तो मुख्यमंत्री की इजाज़त लेकर उसे राज्य के सभी स्कूलों में अनिवार्य किया जाएगा.’

इंडिया टुडे के मुताबिक शाह ने अपने इस फैसले के पक्ष में दलील दी है, ‘मेरी पृष्ठभूमि सेना से जुड़ी है. मेरे दादा सेना में रहे हैं. वे जब भी किसी से मिलते थे हमेशा जय हिंद कहते थे. यह अपने देश के प्रति सम्मान व्यक्त करने का अच्छा ज़रिया है. इस तरह राष्ट्र के प्रति प्रेम भी झलकता है.’ वैसे यह पहला मौका नहीं है जब शाह ने इस तरह का कोई आदेश ज़ारी किया हो. पिछले साल उन्होंने शिक्षकों के लिए ‘राष्ट्रनिर्माता’ का पदनाम लिखने का आदेश दिया था. जबकि इसके कुछ महीने बाद ही बीते दिसंबर में सभी स्कूलों में राष्ट्रगान गाना अनिवार्य किया था.