आज दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) छात्र संघ चुनाव के नतीजे आए हैं. यहां कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) ने जबरदस्त वापसी करते हुए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के पद पर कब्जा जमा लिया है. भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के लिए यह बड़ा झटका है क्योंकि पिछले चार साल से अध्यक्ष पद पर उसी का कब्जा था. हालांकि सचिव और संयुक्त सचिव पद पर उसी के प्रत्याशी जीते हैं. सोशल मीडिया में यह खबर भी ट्रेंड कर रही है. इस पर वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई का ट्वीट है, ‘दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव का संदेश : किसी भी मतदाता, खासकर युवा को हल्के में मत लीजिए. चाय/फोटोकॉपियों (प्रचार सामग्री की) पर बिना खर्च किए भी चुनाव जीता जा सकता है.’

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे दो दिन के भारत दौरे पर बुधवार को अहमदाबाद पहुंचे हैं. यहां हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की. इसके बाद दोनों नेता खुली जीप में सवार होकर आठ किलोमीटर लंबे रोड शो में शामिल हुए. सोशल मीडिया पर शिंजो-मोदी के इस रोड शो और मुलाकात की कई तस्वीरें व वीडियो शेयर हुए हैं. जापानी प्रधानमंत्री के अहमदाबाद में रोड शो पर सवाल उठाते हुए कई लोगों ने इसे गुजरात विधानसभा चुनाव से जोड़ा है. ट्विटर पर मनु आजाद की चुटकी है, ‘जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी पता नहीं चला कि उनका इस्तेमाल बुलेट ट्रेन के लिए नहीं, गुजरात चुनाव के लिए हो रहा है!’

नरेंद्र मोदी और शिंजो आबे कल अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना की आधारशिला भी रखने वाले हैं. सोशल मीडिया में इस पर भी खूब मजेदार प्रतिक्रियाएं आई हैं. ट्विटर हैंडल @S_Rajsthani पर टिप्पणी है, ‘शिंजो आबे भी सोच रहे होंगे कि जब इनके पास छह किलोमीटर चलने (रोड शो) के लिए छह घंटे का समय है तो फिर ये बुलेट ट्रेन क्यों मांग रहे हैं?’

इन दोनों मामलों पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

शेखर गुप्ता | @ShekharGupta

छात्र संघ (दिल्ली विश्वविद्यालय) चुनाव के नतीजे बताते हैं कि भाजपा का अति-राष्ट्रवाद अब काम नहीं कर रहा है और ज्यादातर महत्वाकांक्षी और होशियार युवा उदारवाद को पसंद करते हैं.

विजेंद्र सिंह | @viijendraa

पिछले साल एबीवीपी ने नरेंद्र मोदी की वजह से डीयू चुनाव जीता था... लेकिन इस बार (ऐसा लगता है कि) एबीवीपी को जलवायु परिवर्तन के चलते हार का सामना करना पड़ा है.

इंडियन डिप्लोमैसी | @IndianDiplomacy

जब जापान के राजकुमार और राजकुमारी ने भारत की यात्रा की थी.

जस ओबेरॉय | @iJasOberoi

जो ‘भक्त’ कह रहे हैं कि दिल्ली छात्रसंघ के चुनाव का कोई मतलब नहीं है, वे यह ध्यान रखें कि अरुण जेटली ने आज तक कोई चुनाव जीता है तो वह दिल्ली विश्वविद्यालय का ही चुनाव है.

अजय सराफ | facebook/ajay.saraf

शिंजो आबे के बहाने से मस्जिद (अहमदाबाद स्थित सिदी सईद मस्जिद) में भी जाना है (नरेंद्र मोदी को)… मुस्लिम वोट लुभाना है या उल्लू बनाना है?

कंगना रनौत | @Queen_Simran_87

गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के बुलाए जाने के बाद पूरी संभावना है कि कश्मीर विधानसभा चुनाव में नवाज़ शरीफ़ को बुलाया जाएगा!

अलादीन |‏ @Alllahdin

अगर वे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री होते तो उनका नाम होता – अबे ओए शिंजो!