बीते महीने सब्जियों और प्याज की कीमत में उछाल का सीधा असर थोक महंगाई दर पर पड़ा है. नए आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में थोक महंगाई दर 3.24 फीसदी रही जो बीते चार महीने में सबसे ज्यादा है. थोक महंगाई दर जुलाई 2017 में 1.88 फीसदी, जबकि पिछले साल अगस्त में 1.09 फीसदी थी. थोक महंगाई दर में अप्रैल में सबसे ज्यादा उछाल आया था, तब यह 3.85 फीसदी तक पहुंच गई थी.

गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक खाद्य वस्तुओं की कीमत में पिछले साल अगस्त के मुकाबले इस साल अगस्त में 5.75 फीसदी, जबकि बीते महीने के मुकाबले 2.15 फीसदी बढ़ोतरी हुई है. वहीं, सब्जियों की कीमतों में जुलाई 2017 में 21.59 फीसदी के मुकाबले अगस्त 2017 में 44.91 फीसदी का उछाल आया है. इसके अलावा अगस्त में प्याज की कीमत 88.46 फीसदी बढ़ गई थी. अगस्त में सब्जियों के अलावा फल, अंडा, मीट और मछली की कीमतों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई. हालांकि, आलू और दाल की थोक कीमतों में गिरावट का रुझान जारी रहा.

अगस्त में खाद्य पदार्थों के अलावा ईंधन और बिजली क्षेत्र की थोक महंगाई दर भी बढ़ी है. जुलाई में 4.37 फीसदी के मुकाबले अगस्त में इनकी कीमतों में 9.99 फीसदी का उछाल आया. इसकी वजह पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को बताया गया है. इसी हफ्ते जारी खुदरा महंगाई दर के आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में यह बीते चार महीनों में सबसे ज्यादा रही है.