भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने सॉफ़्ट ड्रिंक कंपनी पेप्सी के साथ छह साल से चल रहा करार खत्म कर दिया है. इकनॉमिक टाइम्स ने कंपनी के एक प्रवक्ता के हवाले से इसकी पुष्टि की है. द हिंदू के मुताबिक़ विराट कोहली का कहना है कि वह ख़ुद सॉफ़्ट ड्रिंक नहीं पीते, इसलिए दूसरों को भी ऐसा करने को नहीं कह सकते.

कुछ समय पहले एक इंटरव्यू में विराट ने संकेत दिए थे कि वे कंपनी से हुई डील के साथ आगे नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा था, ‘जिन चीज़ों (विज्ञापन कंपनियों) का मैंने पहले विज्ञापन किया, मैं नाम नहीं लूंगा, लेकिन अब मैं उनसे ख़ुद को नहीं जोड़ता. पैसे कमाने के लिए मैं दूसरों को उन चीज़ों का उपयोग करने को नहीं कहूंगा जिन्हें मैं ख़ुद इस्तेमाल नहीं करता.’ माना जा रहा है कि स्वास्थ्य और फिटनेस के प्रति विशेष ध्यान देने के बाद से विराट कोहली अब प्रचार के मामले में भी सचेत हो गए हैं.

विराट कोहली की पेप्सी से मौजूदा डील 30 अप्रैल को ख़त्म हो गई थी. इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक़ पेप्सी के एक प्रवक्ता ने ईमेल के ज़रिए बताया, ‘हां, पुराना अग्रीमेंट ख़त्म कर दिया गया है और दोनों ही पक्षों ने आपसी सम्मति से इसे रीन्यू नहीं करने का फ़ैसला किया है.’ प्रवक्ता ने यह भी बताया कि कंपनी अब अपने प्रचार के लिए नए चेहरों को देख रही है.

खबरों के मुताबिक अपनी फ़िटनेस को लेकर लोकप्रिय विराट कोहली किसी विज्ञापन के लिए एक दिन की शूटिंग के साढ़े चार करोड़ से पांच करोड़ रुपये लेते हैं. मशहूर मैगज़ीन फ़ोर्ब्स के मुताबिक़ वे विज्ञापन करनेवाले दुनिया के सबसे महंगे खिलाड़ियों में 89वें नंबर पर हैं.