जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों की कामयाबी ने आतंकी गुटों को एक-दूसरे पर शक करने को मजबूर कर दिया है. डेक्कन हेराल्ड के मुताबिक आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने अपने पूर्व कमांडर जाकिर मूसा पर सुरक्षाबलों के लिए मुखबिरी करने का आरोप लगाया है. सोशल मीडिया पर जारी हुए एक वीडियो में खुद को हिजबुल मुजाहिद्दीन का लड़ाका बताने वाले पांच नकाबपोश लोगों ने जाकिर मूसा को धोखेबाज कहा है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस वीडियो में एक शख्स यह कहते सुना जा सकता है, ‘बीते तीन महीनों में काफी संख्या में हमारे लड़ाके शहीद हुए हैं. हमने मुजाहिद्दीनों की इतनी हत्या पहले कभी नहीं देखी. इन हत्याओं के पीछे कोई और नहीं जाकिर मूसा है.’ गुरुवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा (कश्मीर) के ऑपरेशनल प्रमुख अबु इस्माइल और उसके सहयोगी अबु कासिम के मारे जाने के बाद लश्कर-ए-तैयबा के कश्मीर प्रमुख मोहम्मद शाह ने भी पुलिस के लिए मुखबिरी करने वालों को सख्त चेतावनी दी है. अबु इस्माइल ने अबु दुजाना की जगह ली थी, जिसे एक अगस्त को सुरक्षाबलों ने पुलवामा में मार गिराया था.

हिजबुल मुजाहिद्दीन से बगावत करके अलग हो चुके आतंकी जाकिर मूसा ने कश्मीर में जारी आतंकवाद को जेहाद बताया था. उसने यह भी कहा था कि वह धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र बनाने के लिए अपनी जिंदगी कुर्बान नहीं कर सकता. जाकिर मूसा ने धमकी दी थी कि अगर हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेता इसे राजनीतिक और गैर-इस्लामिक लड़ाई बताते रहेंगे तो वह उनका सिर काटकर लाल चौक पर लटका देगा. इसके साथ उसने हिजबुल मुजाहिद्दीन से अलग होने की घोषणा कर दी थी. बाद में आतंकी संगठन अल कायदा ने उसे कश्मीर में अपनी शाखा का प्रमुख घोषित कर दिया था.