कुछ समय से शांत दिख रही शिव सेना अचानक फिर भाजपा पर हमलावर हो गई है. केंद्र और महाराष्ट्र में भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए गठबंधन की अहम भागीदार शिव सेना ने सोमवार को गठबंधन से अलग होने की चेतावनी दी है. पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने एक के बाद एक कई ट्वीट करके कहा है कि शिव सेना जल्दी ही एनडीए गठबंधन में बने रहने पर फैसला करेगी. शिव सेना सांसद ने ट्विटर पर लिखा है कि उद्धव ठाकरे पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से खुश नहीं हैं और पार्टी इस मामले में सरकार के साथ नहीं है. सोशल मीडिया में शिव सेना की इस चेतावनी के अलग-अलग निष्कर्ष निकाले जा रहे हैं. ट्विटर हैंडल लोन रेंजर पर टिप्पणी है, ‘ऐसा लग रहा है कि शिव सेना एनडीए के डूबते जहाज को छोड़ने वाली पहली पार्टी होगी. उद्धव ठाकरे ने भांप लिया है कि भाजपा 2019 का चुनाव हारने वाली है.’ वहीं भाजपा समर्थकों के साथ कुछ अन्य लोगों ने इस पर तंज किया है. ट्विटर हैंडल‏ @pan_cool कहा गया है, ‘ शिव सेना को अब नई बहुओं वाली धमकी देना छोड़ देना चाहिए.’

2002 के नरोदा गांव (नरोदा पाटिया के नजदीक) दंगा मामले में आरोपित गुजरात की पूर्व मंत्री और भाजपा नेता माया कोडनानी आज सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही हैं. सोमवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस मामले में अहमदाबाद की विशेष अदालत में गवाही दी है. अपने बयान में उन्होंने कहा है कि 28 फरवरी, 2002 को नरोदा गांव में दंगे के दिन पूर्व मंत्री और भाजपा नेता माया कोडनानी वहां मौजूद नहीं थीं. नरोदा गांव दंगा मामले में गवाही के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को विशेष अदालत ने पिछले हफ्ते समन जारी किया था. सोशल मीडिया पर भाजपा विरोधियों ने इस खबर को शेयर करते हुए पार्टी को जमकर निशाने पर लिया है. वहीं वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने पूछा है, ‘मेरे कुछ सामान्य से सवाल हैं : माया कोडनानी ने नरोदा पाटिया मामले में कभी बतौर गवाह अमित शाह का नाम क्यों नहीं लिया था? और अमित शाह ने पहले गवाही क्यों नहीं दी थी? यह सब अभी क्यों हुआ?’

इन दोनों खबरों पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

अंशुल सक्सेना | @AskAnshul

शिव सेना सालों तक विपक्ष में बैठी है, इसलिए महाराष्ट्र की सरकार में शामिल होने के बावजूद वह विपक्ष की तरह बर्ताव कर रही है.

डॉ राधा मोहन अग्रवाल | @AgrawalRMD

शिव सेना जानती है कि भाजपा के साथ गठबंधन में उसे राजनैतिक रूप से कोई फायदा मिल नहीं रहा. लेकिन अब वह जनहित का बहाना बनाकर ही गठबंधन से निकल सकती है.

सतीश आचार्य | @satishacharya

फाइव स्टार ऑफिसर (भारतीय वायु सेना के मार्शल अर्जन सिंह का शनिवार को निधन हुआ है)

चेतन | @chetansir21

जितनी बार उत्तर कोरिया ने अमेरिका को परमाणु हमले की धमकी दी है, उससे ज्यादा बार शिव सेना मोदी सरकार को छोड़ने की धमकी दी है.

टेकनॉम्ड इक्युपमेंट्स | @TechnomedE

शिव सेना को धमकी देने के अलावा कुछ नहीं आता. कभी सिनेमा कलाकार को, कभी किसी गायक को, कभी बिहारी को तो कभी भाजपा को.

शकुनि मामा | @ShakuniUncle

शिव सेना की भाजपा का साथ छोड़ने की धमकी हमेशा एक्सपायरी डेट के साथ क्यों आती है.

विशाल | @VishalSonara_

अमित शाह को हमेशा पता था कि माया कोडनानी उस दिन कहां थीं, फिर उन्होंने बयान देने में इतने साल क्यों लगाए?

आलोक | @nomoremodi

सलमान खान के ड्राइवर ने जो काम उनके लिए किया था, अमित शाह ने वही काम माया कोडनानी के लिए किया है.